योगी सरकार ने प्रियंका वाड्रा का प्रस्ताव किया मंजूर, एक हजार बसों की सूची मांगी



योगी सरकार ने प्रवासी कामगारों के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा के 1,000 बसें भेजकर उनके संचालन के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश अवस्थी ने सोमवार को प्रियंका वाड्रा के निजी सचिव को पत्र लिखकर अविलम्ब बसों की सूची, चालक-परिचालक का नाम और अन्य विवरण उपलब्ध कराने को कहा है, जिससे इनका उपयोग प्रवासी कामगारों की सेवा में किया जा सके।

मजदूरों के साथ इंसाफ करिए, यह वक्त राजनीति का नहीं: अजय लल्लू
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने आज प्रेस कान्फ्रेंस में सूची दिखाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने हमसे सूची मांगी है, इसलिए हम आज उनको 1,000 बसों की सूची दे रहे हैं। अब मुख्यमंत्री से गुजारिश है कि कृपया बसों के संचालन की अनुमति दी जाए। हमारे मजदूर बिना खाए पिए पैदल चल रहे हैं और जगह-जगह दुर्घटनाओं में मारे जा रहे हैं। अब मजदूरों के साथ इंसाफ करिए, थोड़ा सा अपना दिल बड़ा करिए यह वक्त राजनीति का नहीं है। उन्होंने कहा कि हम लगातार सरकार को सकारात्मक सुझाव दे रहे हैं लेकिन भाजपा सरकार इस विपत्ति में भी बेसहारा लोगों की, जरूरतमंदों की समस्याओं को सुनने और उसके निराकरण करने में कोताही कर रही है।

कांग्रेस ने 60 लाख से अधिक लोगों को दिया राशन
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इस वैश्विक महामारी में हम लगातार जनता की सेवा कर रहे हैं। पूरे प्रदेश में हमने 60 लाख से अधिक लोगों की राशन-खाना देकर मदद किये। 7 लाख से अधिक प्रदेश से बाहर फंसे बहन-भाइयों की मदद किया गया। प्रदेश के 22 जिलों में हम रसोईघर चला रहे हैं। बिना खाये-पिये आ रहे देश निर्माता मजदूर भाई-बहनों के लिए हाइवे पर 40 स्टॉल्स लगाकर के हम खाना, पानी, गुड़, चना और नाश्ता बांट रहे हैं।

कांग्रेस दे रही सकारात्मक सुझाव, योगी सरकार असंवेदनशील: आराधना मिश्रा
इस मौके पर कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा ने कहा कि हम लगातार सरकार को सकारात्मक सुझाव दे रहे हैं। मदद करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन योगी सरकार इतनी असंवेदनशील है कि हमारे देश निर्माता मजदूर बहनों-भाइयों की आवाज को सुनना भी नहीं चाहती है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मजदूरों के लिए रेलवे भाड़ा अदा करने की बात की। भाजपा सरकार ने वहां भी अपना गरीब विरोधी चेहरा दिखाया। राष्ट्रीय महासचिव  प्रियंका गांधी ने ज्यादा टेस्टिंग करने का सुझाव दिया तब थोड़ा  टेस्टिंग बढ़ाई गई। जब महासचिव ने सबको राशन की गारंटी की बात उठाया तब जाकर सरकार जागी।

सरकार ने मजदूरों के साथ किया विश्वासघात
आराधना मिश्रा ने कहा कि योगी सरकार ने मजदूरों के साथ विश्वासघात किया है। सरकार ने कहा था कि वह अपने प्रवासी मजदूरों को अन्य प्रदेशों से लाएंगे लेकिन अब जब मजदूर प्रदेश में खुद चलकर आ रहे हैं तो उत्तर प्रदेश सरकार जगह-जगह उनके ऊपर लाठी चार्ज कर रही है। पिछले दिन मथुरा, झांसी और जमुना नगर बॉर्डर पर मजदूरों पर बर्बर लाठीचार्ज हुआ।

कांग्रेस 'नौटंकी पार्टी', आपदा के समय कर रही ओछी राजनीति: भाजपा
उधर भाजपा ने कांग्रेस पर वैश्विक आपदा के समय नौटंकी करने का आरोप लगाया है। प्रदेश प्रवक्ता डॉ. चन्द्रमोहन ने कहा कि कांग्रेस 'नौटंकी पार्टी' हो गई है। वैश्विक आपदा के समय पूरा देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ खड़ा है। दुनिया उनकी तारीफ कर रही है। उत्तर प्रदेश की 23 करोड़ जनता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ है। ऐसे में कांग्रेस घटिया और ओछी राजनीति कर रही है।

कांग्रेस शासित राज्यों से बसों से क्यों नहीं भेजे प्रवासी श्रमिक
उन्होंने कहा कि कांग्रेस बसों की बात करती है तो उसने अपने शासित राज्यों राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़, से पलायन कर रहे श्रमिकों को बसों से यहां क्यों नहीं भेजा। वहां बसों के बजाय लोगों को ट्रकों पर बैठा दिया गया। जब दिल्ली से बड़ी संख्या में कामगारों का पलायन हुआ तो कांग्रेस वहां के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के साथ खड़ी हो जाती है।

रचनात्मक भूमिका निभाने में दिलचस्पी नहीं
प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस को अपनी इस तरह की नौटंकी बन्द करनी चाहिए। पार्टी बार-बार बसें बार्डर पर खड़े होने की बात कहती रही। फिर कहा गया कि हम सूची बना रहे हैं। ये ओछी राजनीति उसे बन्द करनी चाहिए। इस समय उसे रचनात्मक भूमिका निभानी चाहिए। सेवा का कार्य करना चाहिए। लेकिन, वह केवल बवाल, नौटंकी के जरिए मीडिया में आने की कवायद में लगी है। 
Previous Post Next Post

.