लॉकडाउन: तेलंगाना में फंसे झारखंड के मजदूरों के लिए रेलवे ने चलाई पहली स्पेशल ट्रेन

कोरोना और देशव्यापी लॉकडाउन के कारण देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे मजदूरों को उनके गृह नगर तक पहुंचाने के लिए शुक्रवार को मजदूर दिवस के मौके पर रेल मंत्रालय ने तेलंगाना से झारखंड के लिए पहली ट्रेन रवाना की है।
शुक्रवार सुबह 4.50 बजे तेलंगाना के लिंगमपल्ली से यह विशेष ट्रेन 1200 मजदूरों को लेकर झारखंड के लिए रवाना हुई। यह आज रात 11 बजे झारखंड के हतिया पहुंचेगी। ट्रेन में कुल 24 कोच हैं।
रेलवे बोर्ड के कार्यकारी निदेशक राजेश दत्त बाजपेयी ने बताया कि आज सुबह तेलंगाना राज्य सरकार के अनुरोध पर और रेल मंत्रालय के निर्देशानुसार लिंगमपल्ली से हटिया तक एक विशेष ट्रेन चलाई गई। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर यात्रियों की पूर्व जांच, स्टेशन पर और ट्रेन में सामाजिक दूरी बनाए रखने जैसी सभी आवश्यक सावधानियों का पालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह केवल एक विशेष ट्रेन थी और किसी भी अन्य रेलगाड़ियों की योजना केवल रेल मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार और संबंधित दोनों राज्य सरकारों के अनुरोध पर चलाई जाएगी। 
केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश के बाद विभिन्न राज्य सरकारों ने अपने मजदूरों को वापस लाने की कवायद शुरू कर दी है। मंत्रालय ने मजदूरों को सड़क मार्ग से ही ले जाने की अनुमति दी थी लेकिन राज्यों ने लाखों मजदूरों का हवाला देते हुए रेल मंत्रालय से विशेष ट्रेन की व्यवस्था करने का आग्रह किया था। इसके चलते भविष्य में और कितनी ऐसी ट्रेनें चलेंगी इस पर कोई फैसला नहीं हुआ है।
इस स्पेशल ट्रेन पर रेल मंत्रालय का कहना है कि राज्य सरकार की अपील पर इसे चलाया गया है। इसमें सोशल डिस्टेंसिंग और मास सैनिटाइजर आदि सभी प्रकार के ऐतिहासिक कदम उठाने के साथ सभी तरह के नियमों का पालन किया गया है। यह सिर्फ इकलौती ट्रेन थी, जिसे चलाया गया है। आगे अगर कोई ट्रेन चलती है तो राज्य सरकार और रेल मंत्रालय के निर्देश के बाद ही चलेगी।
रेल मंत्रालय के अनुसार सभी महाप्रबंधकों को राज्यों के मुख्य सचिवों से संपर्क कर ट्रेन चलाने की योजना बनाने को कहा गया है। उन्हें अपने स्तर पर निर्णय लेने और परस्पर समन्वय की स्वतंत्रता दी गई है। ऐसे में उम्मीद है कि बिहार, राजस्थान और पंजाब के प्रवासियों की वापसी के लिए भी रेलवे जल्द स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू करेगा।
Previous Post Next Post

.