मोदी सरकार के इस नई योजना से बेटियों को मिलेंगे 6 लाख, आज ही जान लें वरना पछताएंगे आप

जैसा की आप सभी जानते हैं की जब से केंद्र में पीएम मोदी की सरकार बनी है तभी से आए दिन पीएम कई सारी योजनाओं का सिलान्यास कर रहे हैं जिससे जनता को ज्यादा से ज्यादा लाभ हो सकते हैं। चाहे वो देश के विकास के लिए हो या फिर देश की बच्चियों के लिए हो हर क्षेत्र में पीएम मोदी अपना ध्यान दिए हुए हैं और नए नए योजनाओं को ला रहे हैं। वहीं देश में बढ़ते लिंगानुपात और महिलाओं को असमान स्थिति को सुधारने के लिए भी पीएम मोदी ने कई सारे प्रयास किए है जी हां अगर आपको याद होगा तो पीएम मोदी ने 22 जनवरी 2015 को एक ऐसी योजना शुरू की जो हर बेटी के पिता को अपनी लाडली का भविष्य सुरक्षित रखने में मदद मिलती है और तो और इसके अलावा लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की।
मोदी सरकार की इस योजना की विपक्ष के नेता भी तारीफ करते हैं। लोगों का मानना है की बेटियों के भविष्‍य के लिए पैसे जोड़ने के लिए सुकन्‍या समृद्धि योजना एक बेहतरीन स्कीम है। बता दें की ये एक तरह से लघु बचत योजना बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान का हिस्सा है। इतना ही नही माना तो ये भी जा रहा है की घरेलू बचत का प्रतिशत बढ़ने के पिछे का कारण भी यही है तभी तो जो 2008 में जीडीपी का 38 प्रतिशत थी, जबकि 2013 में घटकर 30 प्रतिशत रह गई। यह योजना माता-पिता को अपनी लड़की की शिक्षा और भविष्य के लिए पैसे बचाने के लिए प्रोत्साहित करेगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें की धीरे धीरे इस योगा की शुरूआत पंजाब व हरियाणा में भी हो गई है जहां आप इसका लाभ उठा सकते हैं।
इतना ही नहीं इसके खाते खुलवाने के लिए डाक विभाग के सभी पोस्ट ऑफिसेज में इसकी सुविधा दे दी गई है यहां आकर आप अपने जरूरी कागज जमाकर अकाउंट आसानी से खुलवा सकते हैं। इस अकाउंट में एक फाइनेंशियल ईयर में कम से कम 1 हजार और अधिक से अधिक डेढ़ लाख रुपया या फिर आप चाहे तो इसके बीच में कितनी भी रकम जमा कर सकते हैं लेकिन ये पैसे अकाउंट खुलने के 14 साल तक ही जमा करवाना पड़ेगा और फिर बाद में ये खाता आपकी पुत्री के 21 साल की होने पर ही मैच्योर होगा।
अगर आप चाहे तो जरूरत के अनुसार आपकी बेटी के 18 साल के होने पर आधा पैसा निकलवा सकते हैं। अब हम बता देते हैं इस अकाउंट से होने वाले फायदे के बारे में तो सबसे पहले आपको बता दें की अगर आपने ये अकाउंट साल 2018 में 1,000 रुपए महीने से खोला है तो आपको उसे 14 साल तक यानि की 2031 तक हर साल 12 हजार रुपए डालने होंगे। ऐसे देखा जाए तो हर साल बच्ची को 9.1 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा लेकिन जब वो बच्ची 21 साल की होगी तो उसे 6,07,128 रुपए मिलेंगे।

वहीं आपको ये भी बता दें की 21 साल के बाद खाता बंद हो जाएगा तो उसके बाद ये पैसा बच्ची के माता पिता को मिल जाएगा। आप चाहे तो माता पिता की दो बेटियों के लिए दो अकाउंट खोल सकते हैं। जुड़वां होने पर उसका प्रूफ देकर ही तीसरा खाता खोल सकेंगे। खाते को आप कहीं भी ट्रांसफर करा सकेंगे।

Previous Post Next Post

.