जब दुनिया कोरोना वायरस से मुक्त हो जाए तभी बहाल हो क्रिकेट: युवराज


कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया का जीना मुश्किल किया हुआ है। पूरी दुनिया इस महामारी के चलते अपने घरों में कैद है। खेल जगत भी कोरोना के चलते थम सा गया है और दुनिया की सभी गतिविधियां या तो रद्द हो गई हैं या स्थगित। 

इसी बीच भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज युवराज सिंह ने कहा कि क्रिकेट तब ही शुरू हो जब दुनिया कोरोना वायरस से मुक्त हो जाए और स्थिति फिर से सामान्य हो जाए। क्योंकि खिलाड़ियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य का ख्याल प्राथमिकता होनी चाहिए। 

युवराज ने बीबीसी के पॉडकास्ट में कहा, 'इसे पूरी तरह समाप्त करने या 90-95% नीचे लाने की जरूरत है। क्योंकि अगर यह बढ़ता रहा तो खिलाड़ी रास्ते से बाहर आने में, मैदान में जाने में और ड्रेसिंग रूम में जाने में भी डरेंगे।'

युवराज ने कहा कि पहले ही खिलाड़ियों का दिमाग फील्ड पर दूसरी चीजों से दवाब महसूस करता है, उसके बाद अगर वह कोरोना वायरस के बारे में सोचेंगे तो खेल से उनका ध्यान भटकेगा। उन्होंने कहा, 'आप खेलते वक्त इस महामारी के सवालों को अपने दिमाग में लाना नहीं चाहते हैं। आपको गेंद आदि चीजों पर ध्यान देने की ज्यादा जरूरत है। यह मेरा मानना है बाकी दुनिया इस पर चर्चा कर सकती है।'

पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना वायरस की मार झेल रही है और इसकी वजह से एक लाख 90 हजार से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गवाई है और अभी भी इससे संक्रमित लोगों की संख्या 27 लाख से ज्यादा है। अमेरिका, इटली, स्पेन, ब्रिटेन आदि देशों को इस महामारी ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया है।
Previous Post Next Post

.