अनियंत्रित हाइवा दुकान में जा घुसा, युवक की हुई मौत, दो हुए गंभीर, जानिए कैसे हुआ हादसा

सिंगरौली के जयंत चौकी क्षेत्र के बार्डर स्थित खडिय़ा रोडवेज बस स्टैंड के पास तेज रफ्तार हाइवा वाहन दुकान में घुस गया। जहां मौके पर एक युवक की मौत हो गई। वहीं दो गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घटना के बाद मौके पर भारी संख्या में भीड़ जुट गई। बुधवार की तडक़े सुबह हुई घटना में दिनभर लोगों का गुस्सा शांत नहीं हुआ था। जानकारी के मुताबिक बुधवार की तडक़े सुबह मनीष केसरी (32) पिता राजकुमार निवासी खडिया बाजार, मिथिलेश शर्मा (28 ) पिता धर्मजीत शर्मा निवासी नधिरा बभनी व पिंटू बिंद (25) पिता शिवनाथ बिंद निवासी अहरौरा मिर्जापुर एनसीएल खडिय़ा परियोजना मे कार्यरत आउट सोर्सिंग कंपनी बीजीआर मे ड्यूटी जा रहे थे। 
बस के इंतजार में खड़े तीनों लोग रोडवेज बस स्टैंड पर चाय दुकान पर खड़े होकर चाय पी रहे थे। तभी शराब के नशे में धुत विपरित दिशा से आ रहा हाइवा यूपी 6 4 एटी 6 96 2 ने खड़े लोगो को रौंदते हुए चाय दुकान में घुस गया। जिससे हाइवा में दबने से मनीष केसरी की मौके पर मौत हो गई। जबकि मिथिलेश व पिंटू गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं मृतक के शव का पंचनामा करने के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने बताया है कि जिस समय हाइवा दुकान में घुसा है उस समय चाय दुकान पर दर्जन भर से अधिक लोग चाय पी रहे थे।

दुर्घटना के बाद गुस्साए लोगों ने मार्ग पर जाम लगाकर घटना का विरोध करने लगे। आक्रोशित लोग व बीजीआर कंपनी के कर्मियो ने थाने पहुंच कर विरोध करना शुरू कर दिया। इस बीच पुलिस व कंपनी के अधिकारी सहित स्थानीय जन प्रतिनिधियों के बीच हुई वार्ता मे तय हुआ कि मृतक के परिजन को नौकरी व कंपनी एक्ट के तहत मिलने वाली राशि दी जाएगी। वहीं अंत्येष्टी के लिए तत्काल 45 हजार रुपए मृतक के परिजनों को दिलाया गया है। साथ ही दुकानदार को क्षतिपूर्ति के लिए पांच हजार रुपए दिलाया गया है।

घटना के बाद शराब के नशे में धुत हाइवा चालक को मौके पर मौजूद लोगों ने दबोच लिया। इसके बाद हाइवा चालक व खलासी की जमकर धुनाई किया है। इस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस ने हाइवा को जब्त करते हुए थाने ले गई। वहीं स्थानीय लोगों ने हाइवा चालक एवं खलासी की पिटाई के बाद पुलिस को सौप दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने हाइवा को हटवा कर रास्ता खाली कराया और हाइवा थाने में जब्त कर लिया है। चालक व खलासाी के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच में जुटी है।

रोडवेज बस स्टैंड के पास हाइवा से हो रही दुर्घटनाओं पर जिम्मेदार सबक नही ले रहे हैं। बतादें कि इससे पहले भी हाइवा अनियंत्रित होकर एक दुकान में घुस गया था। जिसमें लाखों का नुकसान हुआ था। दूसरी घटना मे हाइवा अनियंत्रित होकर तीन लोगो को रौंद दिया था। जिसमें आकाश गुप्ता की मौत हो गई थी। बार्डर स्थित रोडवेज बस स्टैंड के पास यह तीसरी घटना है जिसमें फिर एक युवक की जान चली गई और दो लोग घायल हो गए हैं। इसके बावजूद इस गंभीर मसले को लेकर कोई सबक नहीं ले रहा है।
Previous Post Next Post

.