ऐसे पता लगा सकते हैं कि कैसे होगी आपकी मौत

दनिया में कुछ भी सच हो ना हो लेकिन मौत एक शाश्वत सत्य है जो हर किसी को आनी है। कोई भी व्यक्ति मौत से नहीं बच सकता, हमारे हिन्दू धर्मग्रंथों में भी यही कहा गया है की मौत एक ऐसी चीज़ है जो पहले से ही सबका तय है। जो जैसे कर्म करता है उसे वैसी ही मौत मिलती है ,अच्छे कर्म करने वाले को अच्छा और बुरे कर्म करने वाले को बुरी मौत मिलती है। शिवपुराण में ऐसा कहा गया है की जब किसी व्यक्ति का शरीर सफ़ेद पड़ जाए और आँख पीली होजाये तो समझ लेना चाहिए की व्यक्ति का मृत्यु करीब है। आज हम आपो बताने जा रहे है तीन ऐसी बातें जिसके बारे जानकार आप भी अपनी मृत्यु का अंदाज़ा लगा सकते हैं की वो कैसी होगी।

पाना चाहते हैं एक सुखद मृत्यु तो किसी का दिल ना दुखाये

हमारे हिन्दू धर्मग्रंथ गरुड़ पुराण के अनुसार श्री कृष्णा ने ऐस कहा था की जो व्यक्ति अत्यंत सुखद मृत्यु चाहते हैं उन्हें किसी का भी दिल नहीं दुखाना चाहिए और अपने मन में दूसरों के प्रति गन्दी भावनाएं नहीं लानी चाहिए। एक अच्छी मौत केवल उन्हें ही नसीब हो सकती है जो व्यक्ति हमेशा सच्चाई के राहों पर चलता हो और ईश्वर का गुणगान करता हो। अगर भी एक सुखद मृत्यु की आशा रखतें हैं तो अपने मन को साफ़ रखें और दूसरों का बुरा कभी का करें।

भूलकर भी ना करें दूसरों के साथ बुरा बर्ताव, नहीं तो मिल सकती है भनायक मृत्यु

ऐसे लोग जो हमेशा दूसरों के साथ बुरी तरह पेश आते हैं या अपने आगे दूसरों को कुछ नहीं समझते उन्हें भयानक मृत्यु मिल सकती है। कहने का अर्थ ये है की ऐसे लोगों की मृत्यु के समय उन्हें बहुत कष्ट होता है और और उनकी जान आसानी से बाहर नहीं निकलती। ये वो लोग होते है जो गरीबों और दुखियारों को सताते हैं। दूसरों के साथ मार पीट या गाली गलौज करते हैं, गरुड़ पुराण के अनुसार ऐसे लोगों को यमराज बहुत ही भयवाह रूप में लेने आते हैं। ऐसे लोगों के लिए मृत्यु का रूप इतना डरावना होता है की उनकी रूह तक कांप जाती है।
इसके अलावा हिन्दू धर्मग्रंथो में ऐसा भी कहा गया है की बुरे कर्म करने वालों को नर्क में गर्म तेल कड़ाही में डाल दिया जाता है। लोग अपने जीवन काल में बुरे काम कर तो लेते हैं लेकिन इसका भुगतान उन्हें मृत्यु के समय करना पड़ता है। कुल मिला के अगर आप अच्छे काम करेंगे तो मृत्यु सुखद और आरामदायक होगी और बुरे काम करेंगे तो मृत्यु दुखद और कष्टदायक होगी।
Previous Post Next Post

.