पकडाया ट्रक और फिर जब पुलिस ने जांचा तो रह गए हैरान, जानिए...

दादरी के चिड़िया मोड़ पर एक दिन पहले पुलिस द्वारा नाके पर चेकिग के दौरान काबू किए गए बेसहारा पशुओं से भरे कैंटर मामले में कैंटर चालक के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। गो रक्षा दल के सदस्य सचिन कुमार की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है। उल्लेखनीय है कि बुधवार को दादरी के चिड़िया मोड़ पर पुलिस द्वारा नाका लगाया गया था। पुलिस द्वारा शाम के समय वहां से गुजरने वाले वाहनों की जांच की जा रही थी। 
इसी दौरान पुलिस को महेंद्रगढ़ चौक की तरफ से एक कैंटर आता हुआ दिखाई दिया। नाके पर पुलिस ने उक्त कैंटर को रुकवा लिया। जांच के दौरान कैंटर में काफी संख्या में गोवंश भरे हुए थे। इसी बीच पुलिस द्वारा गोवंश से भरा कैंटर पकड़ने की सूचना गो सेवकों को मिल गई। जिसके बाद काफी संख्या में गो सेवक मौके पर पहुंच गए। उस समय पुलिस गोवंश से भरे कैंटर तथा उसमें सवार लोगों को अपने साथ दादरी सिटी पुलिस थाने में ले आई थी। गो रक्षा दल के सदस्य सचिन कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि एक आयशर कैंटर में गोवंश भरे होने की सूचना मिली थी।

सूचना पाकर वे चिड़िया मोड़ पर पहुंचे। वहां पर उन्होंने कैंटर पर लगे तिरपाल को हटा कर देखा तो उसमें करीब 10 बेसहारा पशुओं को बुरी तरह से भरा हुआ था। सचिन ने बताया कि ये बेसहारा पशु जख्मी हालात में थे। चालक से पूछने पर उसने बताया कि वह इन पशुओं को गांव सुरहेड़ा स्थित हाबर हरे कृष्ण गोशाला में लेकर जा रहा था। सचिन ने शिकायत में बताया कि उक्त चालक इन पशुओं को स्लाट्रिग के लिए ले जा रहा था। जिसके बाद पुलिस ने कैंटर चालक के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।
Previous Post Next Post

.