एक कॉल से प्रेमिका चल बसी, प्रेमी चाहकर भी नहीं बचा पाया उसको, कारण ही था कुछ ऐसा

राजस्थान के भरतपुर में लिव इन में रह रही एक महिला ने अपने प्रेमी के साथ झगड़े में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। ये पूरी घटना उस समय हुई जब प्रेमी व प्रेमिका के बीच झगड़ा हो रहा था और उसने अचानक कमरे में घुसकर फांसी लगा लिया। इसपर प्रेमी ने तुरंत थाने में सूचना दी और इसके बाद कमरे का गेट गैस कटर से काटकर खोला गया, मगर तब तक उसके सांसों की डोर टूट चुकी थी।
जानकारी के अनुसार, भरतपुर कोतवाली क्षेत्र में जैन मंदिर के पास 28 वर्षीय महिला मंजू देवी अपने पति से तलाक के बाद दो बच्चों को लेकर किराये के मकान में रह रही थी। वह बिजलीघर चौराहे स्थित रिलायंस मॉल में काम करती थी, जहां उसकी दोस्ती सहकर्मी यतीश प्रजापत से हो गयी और दोनों दिसंबर 2017 से लिव इन रिलेशन में रहने लगे।
गुरुवार को मंजू देवी ने पहले अपने बच्चों को स्कूल भेजा और फिर खुद भी तैयार होकर जॉब पर आ गई। यहां उसके पास किसी का फ़ोन आया तो प्रेमी और उसके बीच उस फोन कॉल को लेकर विवाद हो गया। मंजू मॉल छोड़कर अपने कमरे पर चली गयी और प्रेमी भी उसके साथ लड़ते हुए चला आया। कमरे पर दोनों के बीच काफी ज्यादा झगड़ा हुआ। तभी वह कमरे के अंदर दरवाजा बंद कर घुस गयी और फिर उसने फांसी लगा लिया।
सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा काटकर उसको जिला आरबीएम अस्पताल लेकर पहुंची, जहाँ चिकित्सकों ने जांच के बाद उसको मृत घोषित कर दिया। आपको बता दें की उसकी शादी अलवर के कठूमर निवासी फूल सिंह के साथ हुई थी, लेकिन अभी कुछ वर्षों बाद ही दोनों के बीच तलाक हो गया था।
Previous Post Next Post

.