शुक्रवार को करे ये उपाय और फिर देखे माँ लक्ष्मी का चमत्कार

गौरतलब है कि यदि आपके घर में लगातार लड़ाई झगड़ा हो रहा है और लाख कोशिशे करने के बाद भी आपके घर में हमेशा धन की कमी रहती है, तो इसका मतलब ये है कि आपको सब कुछ सही करने के लिए किसी खास उपाय की जरूरत है. जी हां इसके इलावा यदि आपके घर को बीमारियों ने अपना घर बना लिया है, तब तो आपको ये उपाय जरूर करना चाहिए, जो आज हम आपको बताने वाले है. यकीन मानिये इस उपाय से आपकी सभी समस्याएं दूर हो जाएँगी. वैसे भी शुक्रवार का दिन माँ लक्ष्मी का दिन होता है और ऐसा कहा जाता है कि जिसे माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद मिल जाए, उसकी सभी मुश्किलें दूर हो जाती है. यहाँ तक कि जिसे माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद मिल जाता है, उसका घर हमेशा धन धान्य और सुख समृद्धि से भरा रहता है.
इसलिए यदि आप भी महालक्ष्मी की कृपा हासिल करना चाहते है तो इसके लिए आपको केवल कुछ उपाय करने होंगे. इसमें सबसे पहले उपाय के अनुसार किसी भी शुक्रवार वाले दिन शुभ मुहूर्त पर माँ लक्ष्मी के सामने लाल गुलाब सजाएं. इसके बाद एक लाल कपडे में तीन लौंग के जोड़े रखे. फिर खीर बना ले और उस खीर को नौ कटोरियों में डाल कर पहले माँ लक्ष्मी को भोग लगा दे. इस दौरान आपको मन ही मन एक सौ आठ बार श्री मंत्र का जप करना है और साथ ही गुलाब की पंखुड़ी को लौंग पर चढ़ाना है. फिर जब आपका जप पूरा हो जाए तब गुलाब की पंखुड़ी को लौंग से हटा कर लौंग की एक पोटली बनाते हुए माँ लक्ष्मी से अपनी मनोकामना को मांगना है.
इसके इलावा जो खीर आपने बनाई थी, उसे कन्याओ में बाँट दे और जो पोटली बनाई थी उसे किसी अलमारी या तिजोरी में रख दे. इसके साथ ही इस बात का ख्याल रखे कि आपको साल भर में एक बार इस पोटली को जरूर बदलना है. गौरतलब है कि किसी भी शुक्रवार वाले दिन सुबह जल्दी उठ कर स्नान करने के बाद अपने घर के पूजा स्थान में घी का दीपक जलाएं. इसके बाद जो मंत्र हम आपको बताने वाले है, उसका एक सौ आठ बार जाप करे यानि एक माला का जाप करे. ये मंत्र कुछ इस प्रकार है. ॐ श्रीं श्रिये नमः. इसके इलावा हर शुक्रवार सुबह जल्दी उठ कर स्नान करने के बाद सफ़ेद या लाल रंग के ही कपडे पहने और फिर हाथ में चांदी की अंगूठी या छल्ला पहन कर उसी समय चावल और शक्कर किसी योग्य ब्राह्मण को दान कर दे.
बता दे कि ये उपाय आपको लगातार तीन शुक्रवार तक ही करना है. इससे आपको अच्छा फल जरूर मिलेगा. इसके साथ ही आपको शुक्रवार वाले दिन सवा पांच किलो आटा और सवा किलो गुड़ लेना है. इसके बाद दोनों का मिश्रण बना कर अच्छी तरह से गूँथ ले और फिर इनकी रोटियां बना ले. इसके बाद शुक्रवार को शाम के समय इसे गाय को खिला दे. बता दे कि ये उपाय भी आपको तीन शुक्रवार तक ही करना है. जी हां केवल तीन शुक्रवार से ही आपका भला हो जाएगा.

बरहलाल आप चाहे तो ये उपाय आज से ही शुरू कर सकते है और अपनी किस्मत को आजमा सकते है.

Previous Post Next Post

.