अंगूठे पर रबड़ का नकली थंब लगाकर बैंक में जॉइन करने पहुंचा बिजनौर का जालसाज किया गया गिरफ्तार

इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनल सेलेक्शन मुंबई से परीक्षा के बाद प्रदेश की बैंकों में क्लर्कों व अन्य पदों की हो रही भर्ती घोटाले की भेंट चढ़ गई है। बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक सिविल लाइंस स्थित हेड ऑफिस में शुक्रवार को एक और जालसाज पकड़ा गया। बिजनौर जिले के रहने वाले जालसाज ने अपने अंगूठे पर रबड़ का नकली फिंगर प्रिंट थंब लगा रखा था। बायोमीट्रिक जांच के दौरान उसका अंगूठा चेक किया गया तो वह पकड़ में आया। उसे बैंक में नौकरी दिलाने के लिए गैंग के सदस्यों ने परीक्षा दी थी और शुक्रवार को नकली अंगूठे के सहारे ज्वाइनिंग करने के लिए आया था। बैंक के अधिकारी ने कोतवाली में जालसाज के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।
आईबीएस से परीक्षा व अन्य प्रक्रिया पूरी होने के बाद बैंकों की डिमांड पर क्लर्क व अन्य पदों के लिए अभ्यर्थी उपलब्ध कराए जाते हैं। बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक के 300 पदों को भरने के लिए आईबीपीएस से 800 अभ्यर्थी मिलने के बाद बायोमीट्रिक व अन्य जांच के साथ ही ज्वाइनिंग की प्रक्रिया चल रही है। शहर के हेड ऑफिस में बायोमीट्रिक व शैक्षिक प्रमाण पत्रों की जांच के दौरान गत शुक्रवार को सतर्कता टीम ने बिजनौर जिले के मिल्कबुआपुर नाथू पोस्ट मनकुआं धामपुर निवासी मृदुल कुमार कौशल को पकड़ा। बायोमीट्रिक जांच पूरी कराने के लिए मृदुल ने अपने अंगूठे पर रबड़ लगा रखी थी। 

उसे पकड़कर सिविल लाइन चौकी इंचार्ज एमपी सिंह को बुलाकर सौंप दिया गया। पुलिस युवक से पूछताछ करने में जुटी है। मामले में बैंक के अधिकारी ने युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है। रबड़ के नकली अंगूठे के सहारे बायोमीट्रिक जांच के दौरान पकड़े गए मृदुल कुमार कौशल को ज्वाइन कराने के लिए लग्जगी गाड़ियों से कांग्रेसी आए थे। बैंक के एक अधिकारी ने बताया कि मृदुल को 20 जनवरी को ही ज्वाइन करने आना था, लेकिन उस दिन वह नहीं आया। लग्जरी गाड़ी से एक कांग्रेसी अपने साथियों के साथ आए थे। वाहनों में कांग्रेसी झंडा लगा था। बीयूपीजीबी में जालसाजी के सहारे जॉइनिंग का प्रयास करने में अब तक सॉल्वर समेत तीन शातिरों को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है। 

बिहार प्रांत के ग्राम कुबड़ा पोस्ट परिऔना, नूरसराय नालंदा निवासी कन्हैयालाल और बिहार के ही गोविंदपुर, बाईपास रोड पटना निवासी राजीव रंजन को पकड़ा गया था। पिछले शनिवार को राज नगर गाजियाबाद निवासी मनीष कुमार को भी पकड़कर जेल भेजा जा चुका है। चौकी इंचार्ज सिविल लाइन एमपी सिंह ने बताया कि बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक के हेडऑफिस से एक युवक को पकड़ा गया है। उसने रबड़ का नकली थंब लगा रखा था। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उसके स्थान पर किसने परीक्षा दी थी। इस बारे में पूछताछ की जा रही है।
Previous Post Next Post

.