परिवार को खत्म करके नई जिंदगी जीना चाहता था पति, खुद के बेटे की मुस्कान पर भी नहीं पसीजा था उसका दिल

चार दिन पहले मंगलवार शाम जयपुर में हुी श्रेता तिवारी और उसके 21 महीने की हत्या करने वाला हत्यारा कोई और महिला का पति रोहित तिवारी  है। पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि आरोपी ने अपना गनाह कबूल कर लिया है। दरअसल, तीन तक तक आरोपी पुलिस को गुमराह करता रहा। लेकिन जब सख्ती से पूछताछ की तो वह आखिर में टूट गया और अपना गुनाह कबूल कर लिया। 
पुलिस कमिश्नर के सामने रोते हुए बोला-सर मैं अपनी पत्नी के रोज-रोज के झगड़ने से बहुत थक चुका था।  मुझको नए सिर से जिंदगी शुरु करनी थी, जिसकी वजह से मैंने दोनों की हत्या करवा दी। पुलिस के मुताबिक, पति-पत्नी में मनमुटाव बढ़ता जा रहा था। जिसके चलते बीती 5 जनवरी को रोहित ने श्रेता के साथ मारपीट भी की थी। इस बात की जानकारी, पहले ही पुलिस को कानपुर निवासी मृतका के पिता सुरेश कुमार मिश्रा ने अपनी बेटी और नाती की हत्या के पीछे अपने दामाद का हाथ बताया है। 

उन्होंने पुलिस को बताया कि हमारी बेटी ने फोन कर कहा था कि पति उसके साथ मारपीट करता है और जानसे मारने की धमकी दे रहा है। दोस्त के साले को दी थी पत्नी-बेटी की सुपारी। पुलिस ने बताया कि पत्नी और डेढ़ साल के बेटे को मारने के लिए उसने पूरे प्लान से साजिश रची थी। इसके लिए वह जानने वाले सौरभ से मुलाकत की और उसके जरिए वह सौरभ के साले हरि से मिला। जहां उसने साले को पैसे का लालच देकर दोनों की हत्या करने की सुपारी दी। 
Previous Post Next Post

.