डब्ल्यूएचओ प्रमुख का अमेरिका से फंडिंग पर पुनर्विचार का आग्रह

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख ने उम्मीद जताई है कि ट्रम्प प्रशासन संयुक्त राष्ट्र के स्वास्थ्य संगठन की फंडिंग के अपने निलंबन पर पुनर्विचार करेगालेकिन संगठन का मुख्य ध्यान महामारी रोकने और लोगों के जीवन को बचाने पर है।
डब्लूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने कहा कि अफ्रीका और मध्य और दक्षिण अमेरिका के कुछ हिस्सों में कोरोनावायरस महामारी के शुरुआती दौर के बाद अब नए मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं, जो चिंताजनक है।
टेड्रोस ने एक वीडियो प्रेस ब्रीफिंग में जेनेवा में पत्रकारों को बताया, "अधिकांश देश अभी भी कोरोनावायरस महामारी के अपने शुरुआती चरण में हैं और जिन कुछ देशों में कोरोनावायरस महामारी जल्दी शुरू हुई थी, वहां भी अब नए मामलों में वृद्धि दिखने लगी हैं।"
उन्होंने कहा कि पश्चिमी यूरोप में महामारी स्थिर या घटती हुई प्रतीत होती है। लेकिन हमें कोई गलती नहीं करना है। कोरोनावायरस महामारी को खत्म करने के लिये अभी एक लंबा रास्ता तय करना है। यह वायरस लंबे समय तक हमारे साथ रहेगा।
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रम्प ने पिछले हफ्ते डब्ल्यूएचओ के महामारी से निपटने के तरीके की आलोचना करते हुए यू.एन. एजेंसी की फंडिंग को निलंबित करने की घोषणा कर दी। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने बुधवार को कहा कि अमेरिका का दृढ़ता से मानना ​​है कि चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी डब्लूएचओ को समय पर नए कोरोनोवायरस के प्रकोप की रिपोर्ट करने में विफल रही।
Previous Post Next Post

.