कार में थी 'लाल परी', जब पुलिस ने पीछा किया तो स्पीड बढ़ा दिया इतना ज्यादा की टायर के चीथड़े उड़ गए

लग्जरी कारों में भरकर मध्यप्रदेश में दूसरे राज्यों से भी 'लाल परी' लाई जा रही है। प्रदेश के कई शहरों में ऐसे खुलासे हाल के दिनों में हुए हैं। सागर में भी गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने सोमवार रात तीन बजे फिल्मी स्टाइळ में भाग रही कार का पीछा करते हुए दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने देखते ही कार की रफ्तार बढ़ाकर बदमाश भागने की कोशिश की लेकिन अचाकर टायर फट गया। शराब की खेप लेकर जा रहे युवकों ने भागने की कोशिश की लेकिन घेराबंदी के चलते वे पुलिस के हत्थे चढ़ गए। कार को सिविल लाइन थाने लाकर उससे 35 पेटी शराब जब्त की गई है। 
परिवहन रिकॉर्ड में गाड़ी जबलपुर के दाना गोदाम दर्ज बताई रही है जिसके संबंध में पुलिस पड़ताल कर रही है। सिविल लाइन थाना प्रभारी बीपी वर्मा के अनुसार रात में थाने को मुखबिर द्वारा खेल परिसर के आसपास से लग्जरी कार से भारी मात्रा में शराब पथरिया जाट होकर गौरझामर क्षेत्र की ओर भेजने की सूचना दी गई थी। गश्त पर तैनात आरक्षक प्रदीप कोरी, अमित पटेल ने तस्दीक की तो कार सवार विश्वविद्यालय घाटी से होकर भागने लगे। तब पुलिस की दूसरी टीम ने विश्वविद्यालय घाटी पर कार को रोकने की कोशिश की तो युवकों ने रफ्तार बढ़ा दी।

इसके बाद ये लोग घाटी से पथरिया जाट की ओर भागे लेकिन ग्वालीपुरा के पास कार का टायर फटने से कार रुक गई। पुलिस वाहन को देख कार छोड़कर युवकों ने भागने की कोशिश की लेकिन उन्हें दबोच लिया गया। रात में पुलिस की घेराबंदी और भारी मात्रा में शराब की खेप पकड़े जाने की सूचना पर सीएसपी मकरोनिया अमृता दिवाकर और सिविल लाइन थाना प्रभारी बीपी वर्मा भी मौके पर पहुंच गए। कार को सिविल लाइन थाने लाकर उसमें रखी गई 35 पेटी शराब जब्त कर ली गई। पूछताछ में कार में मिले युवकों ने अपना सूरज आदिवासी और प्रह्लाद लोधी बताया। पुलिस ने दोनों पर आबकारी एक्ट का अपराध दर्ज कर कोर्ट में पेश किया जहां से दोनों को जेल भेजा गया है।
Previous Post Next Post

.