भंसाली की 'गंगूबाई काठियावाड़ी' पर छाया कोरोना का साया, जल्द हटाया जा सकता है फिल्म का सेट


कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सरकार ने लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ाया है। कोरोना के चलते फिल्मनगरी मुंबई सबसे ज्यादा प्रभावित है। लॉकडाउन के चलते लगभग सभी सितारे अपने घरों में समय बता कर रहे हैं। वहां फिल्म निर्माण की गतिविधियां पूरी तरह से बंद है। इस कारण संजय लीला भंसाली की फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' की शूटिंग भी स्थगित हो गई थी। फिल्म सिटी (गोरेगांव, मुंबई) में 12 करोड़ रुपये का सेट में तैयार किया गया था। अब इस सेट को ध्वस्त करना पड़ेगा। हर सेट, चाहे कितना ही भव्य और विस्तृत हो, एक एक्सपायरी डेट के साथ आता है, इसलिए फिल्म सिटी में तैयार शानदार सेट को जल्द ही खत्म कर दिया जाएगा। इस कारण फिल्ममेकर को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। 

संजय लीला भंसाली के प्रोडक्शन हाउस की फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' की शूटिंग मार्च महीने के अंत तक शुरू होनी थी और इसके लिए फिल्म सिटी (गोरेगांव, मुंबई) में 12 करोड़ रुपये की लागत से 1960 के जमाने की चाल और महल तैयार किया था। 'गंगूबाई काठियावाड़ी' भंसाली के प्रोडक्शन की सबसे महंगी फिल्मों में होगी। फिल्म में आलिया भट्ट मुख्य भूमिका में हैं। भंसाली इस फिल्म को सितंबर, 2020 में रिलीज करना चाहते थे, लेकिन कोरोना वायरस के चलते शूटिंग आगे बढ़ गई है और आगे काम शुरू होने के आसार नहीं दिख रहे हैं। इस कारण अब फिल्म रिलीज भी लेट होने की संभावना है।

फिल्म हुसैन जैदी की किताब ‘माफिया क्वींस ऑफ मुंबई’ पर आधारित है। फिल्म में आलिया भट्ट माफिया क्वीन बनी हैं। संजय लीला भंसाली के साथ आलिया भट्ट की ये पहली फिल्म है। भंसाली और आलिया भट्ट को पहले उम्मीद थी कि जल्द ही कोरोनो वायरस संकट खत्म हो जाएगा, लेकिन कोरोना वायरस तेजी से अपना पैर पसार रहा है। इस कारण लॉकडाउन को भी बढ़ाया है। ऐसे में अभी फिल्म की शूटिंग शुरू होने वाली नहीं है जिस कारण सेट को गिराना पड़ सकता है।

कोरोना वायरस महामारी के चलते हर क्षेत्र के लोग प्रभावित हैं। भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण 13 हजार के आंकड़े को पार कर चुका है, वहीं अब तक 437 लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले राज्यों में महाराष्ट्र, दिल्ली, तमिलनाडु, राजस्थान और मध्य प्रदेश हैं।
Previous Post Next Post

.