जानें, अंगूठे के नाखून पर बने अर्ध चांद का क्या है राज

अगर हम अपने शारीरिक अंगों को ध्यान से देखें, तो कभी-कभी अचंभा होता है कि कुदरत ने कितनी कमाल की चीज बनाई है। हर शरीरिक अंग को बनाते हुए काफी बारीकी से काम किया है। हमारी त्वचा पर बने रोमछिद्र, हाथों पर बनी टेढ़ी-मेढ़ी लकीरें, हाथ-पैरों के नाखून, ये कुछ चीजें हैं जो इन अंगों को पूरा बनाती हैं। हमारे शरीर पर मौजूद विभिन्न शरीरिक अंगों में से हमारे हाथ-पांव काफी महत्वपूर्ण माने गए हैं। वैसे तो हर एक शारीरिक अंग का अपना महत्व एवं जरूरत है, लेकिन अगर हाथ-पांव की बात करें तो इनकी भूमिका हमारी लाइफ में छोटी नहीं है।
नाखून कितने जरूरी हैं इसका महत्व आपको महिलाएं अधिक गहराई से समझा सकती हैं। खैर हम खूबसूरती की नहीं, यहां नाखूनों पर बने एक खास चिह्न के बारे में चर्चा करेंगे। आपने अक्सर अपने हाथ के नाखूनों पर बना अर्ध चांद देखा होगा यह निशान लगभग हर इंसान के नाखूनों पर बने होते हैं।

इसे अंग्रेजी में लून्यल कहा जाता है क्योंकि यह अर्ध चांद के आकार का होता है। ये ‘हॉफ मून’ के नाम से भी प्रसिद्ध है। मगर क्या आप जानते हैं इन अर्ध चांद निशान का आखिरकार क्या मतलब होता है, तो चलिए जानते हैं। अगर आप अपने पैरों और हाथों के नाखूनों को देखें तो आपको अपने पैरों या नाखूनों पर सफेद रंग का अर्ध चांद दिखाई देगा असल में इस निशान के नीचे ही परत से जुड़े तत्व पाए जाते हैं लेकिन इसकी वजह से वे ढक जाते हैं।

यह निशान अगर किसी के हाथों के नाखूनों पर पूरी तरह से स्पष्ट दिखते हैं तो वह इंसान स्वस्थ है परंतु अगर यह कम या ना के बराबर दिखे तो यह व्यक्ति मैं बीमारी होने का संकेत बताता है ऐसे व्यक्ति शारीरिक रुप से कमजोर होता है और उसकी पाचन शक्ति भी कमजोर होती है यह निशान जितने गहरे होंगे उतना ज्यादा इंसान स्वस्थ होगा और कुछ लोग इसे बुद्धिमान होने का भी संकेत बताते हैं।
Previous Post Next Post

.