शुक्रवार को जरूर करे ये सरल उपाय, इससे खुल जाएगा आपकी बंद किस्मत का ताला

ये तो सब जानते है कि शुक्रवार का दिन माँ लक्ष्मी का दिन माना जाता है यानि ये दिन पूरी तरह से माँ लक्ष्मी को समर्पित है. वही इस दिन कुछ लोग माँ लक्ष्मी या माँ संतोषी का व्रत भी रखते है. वैसे माँ लक्ष्मी को धन की देवी भी कहा जाता है और आज की दुनिया में जिस इंसान के पास सबसे ज्यादा धन होता है उसका ही बोलबाला होता है. जी हां धनवान इंसान को मौत के सिवाय किसी चीज का डर नहीं सताता. ऐसे में उसका आत्म विश्वास भी सातवे आसमान पर होता है. हालांकि माँ लक्ष्मी के लिए कोई भी इंसान कम या ज्यादा मायने नहीं रखता और वो अपने हर भक्त के प्रति अपनी महिमा दिखाती है. मगर फिर भी माँ लक्ष्मी को खुश करके धन में वृद्धि और घर में सुख समृद्धि का वास किया जा सकता है.
हालांकि यहाँ सबसे बड़ा सवाल ये है कि क्या केवल माँ लक्ष्मी की पूजा करना काफी है? क्या माँ लक्ष्मी को खुश करने के लिए कुछ खास उपाय नहीं करना चाहिए. बरहलाल कल शुक्रवार का दिन और अगर आप चाहे तो माँ लक्ष्मी की पूजा करने के साथ साथ कुछ खास उपाय भी कर सकते है. जैसे कि शुक्रवार के दिन लोहे या स्टील का एक ताला खरीदे और ताला खरीदते समय इस बात का ध्यान रखे कि वह ताला बंद ही होना चाहिए. जी हां ऐसे में उस ताले को न दुकानदार को खोलने दे और न ही खुद खोल कर देखे. फिर उस ताले को एक डिब्बे में रख दे और रात को अपने सोने वाले कमरे में उसे अपने बिस्तर के पास ही रख ले.
इसके बाद अगले दिन यानि शनिवार की सुबह स्नान आदि सब करने के बाद उस ताले को किसी मंदिर या देवस्थान पर जाकर रख दे. फिर ताले को रख कर बिना कुछ बोले और बिना पलटे वापिस अपने घर आ जाए. ऐसे में आपको थोड़ा संयम और विश्वास रखना होगा. जी हां वो इसलिए क्यूकि जिस जगह आपने ताला रखा होगा, उस जगह जो भी इंसान उस ताले को खोलेगा, तो उस ताले के खुलते ही आपकी किस्मत का बंद दरवाजा भी खुल जाएगा. इसके इलावा माथे पर तिलक लगाना शुभ और सात्विकता का प्रतीक माना जाता है.
वैसे भी किसी भी कार्य में सफल होने के लिए माथे पर चंदन, रोली, हल्दी या कुमकुम लगाने की प्रथा सदियों से चली आ रही है. ऐसे में यदि आप किसी नए कार्य के लिए बाहर जा रहे है, तो काला टीका या काली हल्दी का टीका लगा कर जरूर जाए. इससे आपको कार्य में सफलता जरूर मिलेगी. वही जो लोग तिलक के ऊपर चावल लगाते है, माँ लक्ष्मी उस इंसान के आकर्षण में बंध जाती है और हमेशा उनके साथ रहती है. इसके साथ ही घर में हो रहे कलह कलेश को दूर करने के लिए शुक्रवार के दिन शुद्ध जल में थोड़ी सी शक़्कर मिला कर भगवान् शिव को अर्पित कर दे और साथ ही सात अगरबत्ती और देसी घी का दीपक जलाएं.

बरहलाल ये उपाय आपको कल यानि शुक्रवार को ही करने है और हम उम्मीद करते है कि माँ लक्ष्मी आप पर अपनी कृपा हमेशा बनाएं रखे.

Previous Post Next Post

.