संदिग्ध रुप से पिता और पुत्र की मौत से मच गया कोहराम

इलाके के भोजापुर गांव में बुधवार की रात संदिग्ध रुप से पिता-पुत्र की मौत हो गयी। परिवार की तीन अन्य सदस्यों की हालत खराब हो गयी। हालांकि इलाज के बाद उनकी स्थिति में सुधार हो गया। बाप-बेटे की मौत के बाद गांव-घर में मातम पसरा हुआ है। बैरिया थाना क्षेत्र के भोजापुर निवासी आरपीएफ से रिटायर 70 वर्षीय केदार पांडेय के घर मकर संक्रांति पर बुधवार की शाम को खिचड़ी बना था। सबसे पहले केदार खाना खाने के बाद मकान से कुछ दूरी पर स्थित डेरा पर सोने चले गये। 
इसी बीच अचानक उनकी तबियत खराब हो गयी। यह खबर जिस वक्त उनके घर पहुंची, बेटा 45 वर्षीय सुनील पांडेय व अन्य भोजन कर रहे थे। पिता की हालत खराब होने की खबर मिलते ही वह डेरा पर पहुंच गये तथा ग्रामीणों की मदद से केदार को लेकर वाहन से बलिया जाने लगे। बताया जाता है कि हल्दी के आसपास सुनील की भी तबियत खराब हो गयी। साथ में मौजूद लोग दोनों को लेकर एक प्राईवेट अस्पताल में पहुंचे। वहां इलाज के दौरान एक के बाद एक दोनों की मौत हो गयी।

उधर, घर पर सुनील की बेटियों 20 वर्षीय निक्की, 15 वर्षीय निधि व 13 वर्षीय नीति की भी तबियत खराब हो गयी। इनमें से निधि को रात में ही सीएचसी सोनरबसा पहुंचाया गया। अस्पताल के डॉक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। चर्चा है कि बाप-बेटे की मौत विषाक्त भोजन करने से हुई है। हालांकि पुलिस केदार की मौत स्वाभाविक व सुनील की कोल्ड डायरिया से होने का दावा कर रही है।
Previous Post Next Post

.