घर कि दरिद्रता को भागना है दूर तो आज से ही पालन कीजिये इन नियमों का

सभी धर्मो में सबसे ज्यादा प्रचलित हमारे हिन्दू धर्म में सदियों से कई तरह की धार्मिक रीति रिवाजों को बहुत मान्यता है जिनका पालन भी काफी विधि-विधान से किया जाता है। ऐसा करने के पीछे हमेशा से ये मान्यता रही है की यदि नियम पूर्वक पालन सभी कार्य किया जाए तो ईश्वर भी प्रसन्न रहते है और उनकी कृपा भी बनी रहती है। आज हम आपको बताने जा रहे है की कुछ ऐसे नियम जिनका यदि आपके घर में रीती-रिवाज के साथ पालन किया जाए तो उस घर में ईश्वर निवास करते है उस घर में दुःख तकलीफे कभी नहीं आएगी।
सबसे पहले आपको बताना चाहेंगे की हमारे शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता ही की जिस घर में छोटी-छोटी बातो पर ध्यान दिया जाता उस घर में हमेशा ईश्वरीय शक्ति निवास करती है। इसलिए हमेशा कहा जाता है की कोई भी छोटी या बड़ी बात हो उसे गमभारिता से पूरा करना चाहिए साथ ही जितना हो सके अपने घर में पूजा पाठ से लेकर छोटी- बड़ी सभी बातों पर ध्यान देना चाहिए।
ऐसा माना जाता है की जिस घर में तुलसी कि पूजा होती है उस घर में कभी भी किसी वस्तु कि कमी नहीं होती, फिर चाहे वो धन से जुड़ी ही या फिर संपन्नता से। बता दे की जो हवा तुलसी को छू कर घर में आती है उस हवा अमृत के बराबर माना जाता है। ऐसी मान्यता है की जो लोग प्रतिदिन तुलसी कि पूजा करते है उनके घर में भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी जी कृपा बनी रहती है।

शास्त्रों और धर्म-कर्म के अनुसार कहा जाता है की जिस परिवार में एकाक्षी नारियल कि पूजा कि जाती है उस घर में सदा ईश्वर कि कृपा होती है। बताया जाता है की पुजा के पश्चात इस नारियल को लाल कपड़े में बांधकर इसे तिजौरी में रख दिया जाए तो घर में पैसे से संबन्धित सभी समस्या दूर हो जाती है और घर में दरिद्रता का कभी वास नहीं होने पाता है।

Previous Post Next Post

.