बहन शाम को गई थी खेत के तरह उसको शिक्षक ने उठा लिया और फिर अब उसपर लगा है आरोप

देवरिया जिले के मदनपुर थाना के नकइल गांव से अपहृत किशोरी का सुबह चौराहे के समीप स्थित पोखरे से शव बरामद हो गया। पोस्टमार्टम में उसकी हत्या के संकेत मिले हैं। उसके बायें तरफ के सीने की हड्डी टूटी हुई मिली है। उधर परिजनों ने शिक्षक समेत पांच लोगों के खिलाफ हत्या का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। पुलिस पहले से दर्ज अपहरण के मुकदमे को तरमीम करने की बात कह रही है।
आपको बता दें की नकइल गांव के विनोद यादव की 15 वर्षीया पुत्री काजल अपनी बहन व मां के साथ बुधवार की रात खेत की तरफ गई हुई थी। लौटते समय चौराहे के समीप से काजल का बाइक सवारों ने अपहरण कर लिया। गुरुवार को पुलिस ने इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू की। इस बीच की सुबह काजल का शव पोखरे से बरामद किया गया। तीन दिनों तक शव के पानी में रहने के चलते शरीर फूल गया था और चोट का अनुमान भी नहीं लग पा रहा था। 
बताते चलें की पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट में डूबने से नहीं, बल्कि सीने की हड्डी टूटने व अन्य जगहों पर चोट लगने के चलते मौत होने की पुष्टि हुई। पुलिस को दी गई तहरीर में परिजनों ने आरोप लगाया है कि काजल जिस विद्यालय में कक्षा आठ में पढ़ती थी, उस विद्यालय के एक शिक्षक के इशारे पर चार युवकों ने घटना को अंजाम दिया है। इस पर निरीक्षक विद्याधर कुशवाहा ने कहा कि इस मामले में पहले से ही अपहरण का मुकदमा दर्ज है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद हत्या की धारा तरमीम कर दी जाएगी। आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा।
Previous Post Next Post

.