बनना चाहते हैं करोड़पति तो इन मंत्रों का जाप जरूर करें, स्वयं कुबेर देव ने जपे थे इन मन्त्रों को

कुबेर देव को धन का देवता माना जाता है ये तो हम सभी जानते हैं लेकिन, कुबेर देव ने धन का देवता बनने के लिए क्या किया ये आप शायद ही जानते हों। अगर आप भी बनना चाहते हैं करोड़पति तो आपको जरुरत है सिर्फ कुबेर देव को प्रसन्न करने की। आज हम आपको ऐसा ही एक मन्त्र बताने जा रहें हैं जिसका जाप करके आप भी बन जाएंगे करोड़पति, तो देर किस बात की है आईये जानते हैं की कौन सा है वो मन्त्र जिसका जाप करना है जरूरी और कैसे प्रस्सन्न किया जा सकता है कुबेर देव को।

कुबेर देव को इस मन्त्र के जाप के बाद ही धन का देवता बनाया था

हमारे शास्त्रों के अनुसार जिस मन्त्र की बात हम करने जा रहे हैं उस मंत्र को कुबेर देव ने भी जपा था और तब जाकर महादेव ने उन्हें देवताओं में धन का देवता घोषित किया था। आजकल हर व्यक्ति का यहीं लक्ष्य होता है की लोग कैसे ज्यादा से ज्यादा पैसा कमा सकें। तो आपको बता दें की हम जो मन्त्र आपको बताने जा रहें हैं उसका जाप करने पर आप धन के देवता कुबेर देव के साथ साथ धन की देवी लक्ष्मी माता को भी प्रसन्न कर सकते हैं। आपने अपने बड़े बुजुर्गों से ये तो जरूर सुना होगा की मन्त्रों के उच्चारण द्वारा किसी भी देवता को प्रसन्न किया जा सकता है। इसलिए मन्त्रों के जाप से कुबेर देव को भी प्रस्सन्न कर धन की समस्या को जिंदगी से मिटाया जा सकता है।

ये है वो शक्तिशाली मंत्र

हम जिस मंत्र के जाप करने की बात कर रहें हैं वो मंत्र है “ॐ यक्षाय कुबेराय वैष्णवाय, धन धन्यधीप्तये धन धान्य समृद्धि में देही दापय स्वाहा”, इस मंत्र का जाप रोज सुबह नहा धोकर दक्षिण दिशा की ओर मुँह करके किया जाता है। इस मंत्र को अमोघ मंत्र कहा जाता है और इसका जाप व्यक्ति को तीन महीने तक रोज 108 बार करनी होती है। इसके अलावा इस मंत्र को जपते समय अगर कोई व्यक्ति अपने साथ कुछ कौड़ियां रखें और मंत्र जाप ख़त्म होने के बाद उसे पाने तिजोरी में रख दें तो इससे अथाह लाभ और धन की प्राप्ति होती है। तो देर किस बात की है आप भी इस मंत्र का विधि पूर्वक जाप करें और अपने जीवन से पैसों की तंगी को दूर करें।
Previous Post Next Post

.