अगर आप भी अपने बुरे दिनों से हो चुके है परेशान, तो एक बार ये कमाल का उपाय जरूर आजमाएं

अगर ग्रह नक्षत्रो की बात करे तो कई बार ऐसा होता है कि ग्रह आपके पक्ष में नहीं होते, यानि आपके ग्रह आपके विपरीत होते है. ऐसे में आपके सभी काम बिगड़ने लगते है. बता दे कि इसके लिए देवो ने ज्योतिष शास्त्र में एक ऐसा उपाय बताया था, जो न केवल आसान है, बल्कि जल्दी असर भी दिखाता है. जी हां पुराणों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि केवल एक गाय माता का पूजन करने और उनकी सेवा करने से सभी दोष और पीड़ाएँ दूर हो जाती है. वही विष्णु पुराण में तो यहाँ तक कहा गया है कि यदि गाय माता की सच्चे मन और भक्ति भाव से सेवा की जाए तो मात्र साठ दिनों में आपके बुरे दिन अच्छे दिनों में बदल जाते है.
यदि आपकी जन्म कुंडली में सूर्य नीच यानि तुला राशि में हो या अशुभ स्थिति में हो तो और शुक्र ग्रह नीच का यानि कन्या राशि में या अशुभ स्थिति में हो तो श्वेत यानि सफ़ेद रंग की गाय का पूजन करके रोटी खिलाने से ग्रहो की अशुभता दूर हो जाती है. वही कुंडली में यदि गुरु ग्रह नीच का हो यानि मकर राशि में या अशुभ स्थिति में हो तो गाय की पीठ पर बने कूबड़ या ककुदू के दर्शन करके रोटी में गुड़ और चने की दाल रख कर गाय को खिला दे. इससे गुरु ग्रह का शुभ प्रभाव होने लगता है या गुरु ग्रह शुभ प्रभाव देने लगता है. बता दे कि प्राचीन काल से ही ये मान्यता है कि गाय में तैंतीस करोड़ देवी देवताओ का वास होता है.
वही भगवान् श्रीकृष्ण जी ने भी हमेशा गौ माता की सेवा और उनका पालन कर, देश और दुनिया को गौ रक्षा का संदेश दिया है. ऐसे में पूजा कर्म के लिए गौ माता के पूजन का अपना ही विशेष महत्व है. इसलिए तो कहा जाता है कि गाय केवल एक पशु नहीं, बल्कि गौ माता है. हालांकि गौ माता को एक श्राप के चलते झूठा खाना खाने की सजा आज भी मिल रही है. मगर इससे ये सच नहीं बदलता कि गाय वास्तव में एक माता है और उसमे देवी देवता वास करते है. ऐसे में यदि आप अपने ग्रहो के दोष को दूर करना चाहते है और अपने बुरे दिनों को अच्छे दिनों में बदलना चाहते है तो गाय माता की सेवा और उनका पूजन जरूर कीजियेगा. यक़ीनन आपको इसका अच्छा फल ही मिलेगा.

बरहलाल आपको उपाय बताना हमारा फर्ज था, लेकिन इसको करना या न करना ये आप पर ही निर्भर करता है.

Previous Post Next Post

.