प्रेमी के साथ पकड़ी गई महिला, और फिर घरवालों ने प्रेमी के साथ किया ऐसा सलूक....

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले में करवा चौथ व्रत पूजन के दौरान घरवालों ने महिला को उसके प्रेमी के साथ रंगे हाथों पकड़ लिया. इसके बाद गुस्साए घरवालों ने दोनों को इतना पीटा कि वो गंभीर रूप से घायल हो गए. महिला और उसके प्रेमी को घायल हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां युवक की मौत हो गई. मृतक प्रेमी की पहचान हिस्ट्रीशीटर अखिलेश मिश्रा के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि उसके ऊपर कई मुकदमे दर्ज थे. जानकारी के मुताबिक, मामला पहाड़ी थाना क्षेत्र के नांदी गांव का है. 
पहाड़ी के थानाध्यक्ष जयशंकर सिंह ने बताया कि वर्ष 2001 में अखिलेश मिश्रा को हिस्ट्रीशीटर घोषित किया गया था. उन्होंने बताया कि अखिलेश मिश्रा और उसकी कथित प्रेमिका को गुरुवार शाम करवा चौथ व्रत पूजन के दौरान परिजनों ने लाठी-डंडों से पीट-पीटकर घायल कर दिया था. घायल अखिलेश मिश्रा की इसके अगले दिन प्रयागराज के एक अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. वहीं, उसकी प्रेमिका का इलाज मध्य प्रदेश के सतना स्थित एक अस्पताल में चल रहा है. उसकी भी हालत गंभीर बताई जा रही है.

महिला के पुराने प्रेम संबंध थे
जयशंकर सिंह ने बताया कि हिस्ट्रीशीटर अखिलेश मिश्रा और महिला के पुराने प्रेम संबंध थे. उन्होंने बताया कि विरोध करने पर प्रेमी ने कुछ दिन पहले महिला के पति और उसके सास-ससुर को मारपीट कर गांव से निकाल दिया था. साथ ही उसने महिला के अन्य परिजनों को भी गांव छोड़कर जाने के लिए धमकी दी थी. अखिलेश मिश्रा के खिलाफ पुलिस मुठभेड़ सहित 11 मुकदमे चित्रकूट और सतना की विभिन्न अदालतों में चल रहे हैं. सिंह ने बताया कि हिस्ट्रीशीटर के भाई धर्मेंद्र मिश्रा की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर महिला के फरार परिजनों नीरज, विकास, शानू, नीलेश और गोविंद की तलाश की जा रही है.
Previous Post Next Post

.