स्वास्थ्यकर्मियों पर हो रहे हमलों को लेकर एम्स के डॉक्टरों ने गृहमंत्री को लिखा पत्र


दिल्ली सहित देश के अन्य भागों में डॉक्टरों पर लगातार हो रहे हमलों को लेकर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली  के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (आरडीए) ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को  शुक्रवार को पत्र लिखा है।

गृह मंत्री को लिखे पत्र में एम्स के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने सात  बिन्दुओं का  जिक्र करते हुए कहा है कि  उन्हें अपनी जिम्मेदारियों के निर्वाहन के दौरान मारपीट से दो चार होना पड़ा है। इसी के साथ आरडीए ने गृह मंत्री से 'स्वास्थ्य सेवा कार्मिक और नैदानिक प्रतिष्ठान (हिंसा और संपत्ति को नुकसान का निषेध) विधेयक को लागू करने की अपील भी की है।

उल्लेखनीय है कि गत सप्ताह उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में कोरोना ड्यूटी पर जा रहे डॉक्टर से पुलिस द्वारा मारपीट का मामला सामने आया था। वहीं गत बुधवार को मुरादाबाद के हॉटस्पॉट इलाके नवाबपुरा में गई पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम पर भीड़ ने हमला कर दिया। पथराव किया और टीम की तीन गाडिय़ों को क्षतिग्रस्त कर दिया। टीम में शामिल एक डॉक्टर समेत सात लोगों को पीटकर घायल कर दिया।

दिल्ली के लोक नायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में कोरोना पीड़ित जमाती मरीज ने महिला डॉक्टर को न केवल अपशब्द कहेबल्कि महिला डॉक्टर के पक्ष में सामने आए पुरुष डॉक्टर से हाथापाई तक की। इससे भी पहले दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में काम करने वाली दो महिला डॉक्टरों के साथ बदसलूकी और उत्पीड़न का मामला सामने आया था।
Previous Post Next Post

.