भूल से भी इस दिशा में ना लगाएं मनी प्लांट, वृद्धि की बजाय हो सकती है धन की हानी

आपने अक्सर बहुत लोगों के घर में मनी प्लांट का पौधा लगा हुआ जरूर देखा होगा। कई बार लोग इसे अपने घर में डेकोरेशन के तहत लगते है मगर देखा जाए तो ज़्यादातर लोग इस पौधे को इसी सोच के साथ लगते है की इसके रहने से घर में रुपये-पैसे बराबर आते रहते है और कभी संपन्नता की कमी नहीं होने पाती है। मगर बहुत से लोग इस पौधे से जुड़ी एक खास बात से अंजान है जिसकी वजह से आपको लाभ की जगह हानी होने लगेगी।
आज हम आपको मनी प्लांट से संबन्धित कुछ खास बात बताने जा रहे है जो यकीनन आपके लिए जानना काफी जरूरी है। बताना चाहेंगे की वास्तु शास्त्र के अनुसार हर घर में मनी प्लांट लगाने को लेकर उसकी दिशा के बारे में विशेष रूप से बताया गया है। माना जाता है कि यह पौधा घर में लगाने से घर में धन का आगमन बढ़ता और सुख-समृद्धि में भी हमेशा इजाफा होता है, मगर आपको बताना चाहेंगे की यदि आपका मनी प्लांट का पौधा शरत्रानुसार गलत दिशा में लगा हुआ है तो यह तय है की आपको लाभ की जगह हमेशा नुकसान ही होगा।
आप सोच रहे होंगे की अब पौधा लगाने के लिए भी दिशा आदि का क्या मतलब है, मगर आपको बता दे की यह कोई साधारण पौधा नहीं है इसलिए इसे अपने घर में रखते वक़्त कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार, मनी प्लांट का पौधा लगाने के लिए सर्वोत्तम स्थान आग्नेय दिशा यानी दक्षिण-पूर्व माना जाता है। काफी कम लोगों को इस बात का पता होगा की आग्नेय दिशा के देवता गणेश जी हैं और इसके प्रतिनिधि ग्रह शुक्र है, हिन्दू धर्म मे गणपती भगवान को सुख समृद्धि का देवता माना जाता है।

घर में मनी प्लांट लगते वक़्त इस बात का विशेष ध्यान रखिएगा की कभी भी यह पौधा घर के उत्तर पूर्व दिशा में नहीं लगा होना चाहिए क्योंकि ऐसा माना जाता है की इस दिशा मे मनी प्लांट लगाने पर घर में नकारात्मक्ता आती अहि और धन वृद्धि की बजाय आर्थिक नुकसान हो सकता है। वास्तु शास्त्र के मुताबिक, उत्तर पूर्व दिशा के लिए सबसे उत्तम तुलसी का पौधा होता है, यही वजह है कि आप ईशान दिशा में मनी प्लांट लगाने की बजाय चाहें तो तुलसी का पौधा लगा सकते हैं।

Previous Post Next Post

.