क्या है वो रहस्‍य जो एक साधारण से पौधे को लोग मनी प्‍लांट यानी पैसे देने वाला पौधा मानने लगे



अपने गौर किया होगा की अक्सर ज़्यादातर घरों में एक पौधा छोटी बोतल या गमले में रहता है जिसे लोग दूसरों के घरों से चुराकर अपने यहां लगाते हैं। खास बात यह है की यह पौधा सूरज की रौशनी से दूर रहकर भी कई-कई महीनो तक हरा रहता है, जी हाँ आपने बिलकुल सही पहचाना हम बात कर रहे है मनी प्लांट की। दोस्तों आपको बता दे की मनी प्लांट एक ऐसा पौधा है जो लगभग सभी घरों में इस विश्वास के साथ लगाया जाता है कि इसकी मौजूदगी घर में रुपये-पैसे की कमी नहीं होने देती है और ऐसा माना जाता है की इसको लगाने से घर में सुख, समृद्धि और शांति बनी रहती है।
मगर क्या आपने कभी इस बात पर गौर किया है कि मनी प्लांट को समृद्धि से जोड़ने के पीछे आखिर क्या कहानी है। आपको बताना चाहेंगे की मनी प्लांट से जुड़ी एक प्रचलित लोककथा हैjज जिसके अनुसार ये कहा जाता है की ताइवान में एक ग़रीब किसान था जो मेहनत तो जी-तोड़ करता मगर उसकी तरक्की कभी नहीं होती जिस वजह से वो दुखी रहने लगा। कहते है की एक रोज उसे खेत में एक पौधा मिला जो दिखने में बाकी पौधों से कुछअलग था।
किसान उस पौधे को अपने घर ले आया और घर के बाहर मिट्टी में लगा दिया, उसने देखा कि पौधा काफी लचीला है और बिना ज़्यादा देखरेख के भी अच्छे से बढ़ रहा है। जिस तरह से वह पौधा बिना किसी मदद के अपने आप ही बढ़ रहा था किसान को इससे तीव्र प्रेरणा मिली। पौधे के इस विकास ने उसके दिमाग़ में एक सकारात्मक ऊर्जा भर दी जिसके बाद किसान ने फैसला किया कि वो पौधे जैसा ही अपने व्यक्तित्व में लचीलापन लाएगा और अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित रहेगा। जल्द ही उस पेड़ में फूल आ गए, तब तक किसान भी अपनीकड़ी मेहनत और द्रिढ़ संकल्प से एक सफ़ल व्यवसायी बन चुका था।

जब लोगों ने किसान की आश्चर्यजनक सफ़लता का राज़ उसके घर के बाहर लगे हरे-भरे पौधे को मान लिया और तब से ही लोगों ने उसे समृद्धि से जोड़कर उसका नाम मनी प्लांट रख दिया।खैर फेंगशुई के अनुसार यह पौधा आसपास की हवा को शुद्ध बनाता है और साथ ही ये रेडिएशन का प्रभाव कम करता है और वातावरण मे ऑक्सीज़न छोड़ता है।

Previous Post Next Post

.