खिलाड़ियों की सुरक्षा की गारंटी के बाद ही शुरू होगी खेल गतिविधियां: कॉन्टे


इटली के प्रधानमंत्री ग्यूसेप कॉन्टे ने रविवार को इस बात की इजाजत दे दी है कि पेशेवर स्पोर्ट्स टीमें मई में प्रशिक्षण शुरू कर सकती हैं। मगर प्रतिष्ठित फुटबॉल टूर्नामेंट सीरी-ए को फिर से शुरू करने की कोई तारीक निर्धारित नहीं हुई है। 

कोरोना वायरस महामारी ने इटली को गंभीर रूप से प्रभावित किया है। जिसके बाद सीरी-ए को 9 मैच को निलंबित कर दिया गया था। बाद में इस बात पर भी चर्चा हुई की टूर्नामेंट को बंद दरवाजों के पीछे कराया जा सकता है। मगर यह भी संभव नहीं हो पाया। 

कॉन्टे ने कहा, 'हमारे खेल मंत्री प्रशिक्षण सुनिश्चित करने के लिए वैज्ञानिकों और खेल नेताओं के साथ गहनता से काम कर रहे हैं, उसके बाद ही हम यह देखेंगे कि निलंबित टूर्नामेंटों को फिर से शुरू किया जा सकता है या नहीं। हम जब किसी फैसले पर पहुंचेंगे जब इस बात की गारंटी मिल जाएगी की सब सुरक्षित हैं। हम नहीं चाहते कि हमारे एथलीट बीमार हों।'

उन्होंने कहा, 'मुझे भी बाकी इटलीवासियों की तरह फुटबॉल का शौक है। शुरू में मुझे भी अजीब लगा कि प्रतियोगिता को निलंबित किया जाएगा, लेकिन मुझे लगता है कि सबसे ज्यादा उत्साहित प्रशंसक भी यह बात समझते हैं कि और कोई रास्ता नहीं था।'

सीरी-ए टूर्नामेंट के 12 राउंड के मुकाबले अभी खेले जाने हैं, जो कोरोना वायरस महामारी की वजह से स्थगित हो गए थे। चीन से शुरू हुई इस महामारी ने इटली में बहुत ज्यादा कहर ढाया है। इटली में एक लाख 98 हजार से ज्यादा लोग कोरोना वायरस संक्रमित हैं और वहां मरने वालों की संख्या 26,500 से ज्यादा है। दुनिया में भी यह महामारी रुकने का नाम नहीं ले रही और इससे पीड़ित लोगों का आंकड़ा 29 लाख से ज्यादा पहुंच गया है। वहीं दो लाख से ज्यादा लोग इसके चलते मौत का शिकार बने हैं।
Previous Post Next Post

.