यदि आप भी भुट्टे खाने से पहले उसके रेशे फेंक देते हैं तो ये पोस्ट जरूर पढ़े

भुट्टे के रेशे

जब आग की धीमी आंच पर ताजा ताजा भुट्टा सिकता हैं तो उसकी सोंधी सोंधी खुशबु से मुंह में पानी आ जाता हैं. आप सभी ने भी घर पर या बाजार में थेले वाले से लेकर गरमा गरम भुट्टा जरूर खाया होगा. भुट्टे में उपस्थित मकई के दाने हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं. डॉक्टर्स भी भुट्टे के दानो को रोजाना अपनी डाईट में खाने की सलाह देते हैं.
भुट्टे के अन्दर विटामिन ए, ई और बी सहित कई मिनरल्स पाए जाते हैं. भुट्टा शरीर में कैल्शियम पाने का भी एक अच्छा स्त्रोत होता हैं. अक्सर जब भी हम भुट्टा खाते हैं तो उसके रेशों (बाल) को निकाल फेंक देते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं भुट्टे के इन रेशों में कई सारे पोषक तत्व मौजूद रहते हैं. हाल ही में हुए एक शौध में भी यह खुलासा हुआ हैं कि भुट्टे के रेशे कई बिमारियों से लड़ने में मदद करते हैं.

भुट्टे के रेशे (बाल) के फायदें

1. किडनी स्टोन(पथरी): यदि आपकी किडनी में पथरी बनने की समस्यां रहती हैं तो आप भुट्टे के रेशे खाना शुरू कर दे. इसमें मौजूद पोषक तत्व किडनी के अन्दर पथरी पैदा नहीं होने देते हैं.
2. रक्त का थक्का: भुट्टे के रेशे में विटामिन के की मात्रा अधिक होती हैं. इस वजह से कभी भी चोट लगने पर खून निकलता हैं तो यह उस खून को जमने में सहायता करता हैं.
3. मधुमेह: जिन लोगो को मधुमेह (डायबिटीज) की बिमारी हैं उनके लिए भुट्टे के रेशे बड़े काम के होते हैं. यह शरीर में इन्सुलिन की मात्रा को नियंत्रित करने का कार्य करता हैं.
4. पाचन तंत्र: जिन लोगो को खाना पचाने में तकलीफ होती हैं या हमेशा कब्ज की बिमारी सताती रहती हैं उनके लिए भुट्टे के रेशे काफी फायदेमंद होते हैं. इन रेशो में मौजूद पोषक तत्त्व हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाने का कार्य करते हैं.
5. आँखों के लिए: भुट्टे के रेशों में विटामिन ए की मात्रा होने के कारण यह आँखों के लिए फायदेमंद होता हैं. इसे खाने से आँखों की रौशनी तो बढ़ती ही हैं साथ ही भविष्य में मोतियाबिंद की समस्यां होने का खतरा भी टल जाता हैं.
Previous Post Next Post

.