बुधवार के दिन करें बस ये एक उपाय और पाए अपार धन

आजकल के जीवन में आपसे बहुत ही मायने रखते हैं, अगर आपके पास पैसे हो तो आप दुनिया की कोई भी चीज़ कोई भी ख़ुशी खरीद सकते हैं। वैसे तो पैसे से हर चीज़ नहीं खरीदी जा सकती लेकिन रोज मर्रा के सुख सुविधाओं के लिए पैसों की बहुत जरुरत पड़ती हैं। लेकिन आज हम आपको जो बताने जा रहे हैं वो आपके जीवन में पैसों की तंगी को हमेशा के लिए ख़त्म कर देगा। तो आईये आपको बताते हैं की बुधवार के दिन किया जाने वाला वो कौन सा उपाय है जो आपको आर्थिक तंगी से मुक्ति दिला सकता है।

कल 6 दिसंबर बुधवार के दिन करें ये उपाय

आपको बता दें की बुधवार का दिन बुध भगवान् के साथ साथ गणेश जी का भी दिन माना जाता है। गणेश जी को शुभ कार्यों का देवता माना जाता है और कल यानि की बुधवार को मासिक गणेश चतुर्थी का व्रत रखा जाता है। ऐसा माना जाता है की जो लोग ये व्रत रखते हैं उनके जीवन में कभी भी पैसों की कमी नहीं आती और लक्ष्मी माता हमेशा प्रसन्न रहती हैं। पैसों से जुडी हर तरह की समस्याओं से निजात पाने के लिए बुधवार के दिन गणेश जी का व्रत रखने से आर्थिक तंगी से हमेशा के लिए छुटकारा मिलता है क्यूंकि इस दिन को बहुत ही शुभ माना जाता है। अगर आपके के साथ भी किसी प्रकार की पैसों से जुडी समस्या हो तो उसके लिए कल यानी बुधवार के दिन गणेश जी का व्रत जरूर रखें।

व्रत के साथ-साथ इस उपाय को भी जरूर अपनाये

कल बुधवार के दिन गणेश जी का व्रत रखने के साथ साथ कुछ ख़ास उपाय भी अजा हम आपको बताने जा रहे हैं जिसे करने के बाद आपके जीवन में पैसों की किल्लत कभी नहीं आएगी। कल यानि बुधवार के दिन व्रत रखने के साथ ही आपको गणेश जी को घी और गुड़ का भोग लगाना होता है लेकिन इस बात का भी विशेष ध्यान रखें की भोग लगाने के बाद आप स्वयं उस सेवन ना करें बल्कि उसे किसी गौ माता को खिला दें। ऐसा करने से आपके घर परिवार में आने वाली आर्थिक तंगी से आपको निजात मिलेगा और घर में खुशियों और शुभ कार्यों का माहौल बनेगा। ऐस माना जाता है की इस एक उपाय से गरीब से गरीब व्यक्ति भी अमीर बन सकता है। इसक अलावा गणेश जी के विशेष मन्त्र का भी जाप करें ये मन्त्र है “त्रयीमयायाखिलबुद्धिदात्रे बुद्धिप्रदीपाय सुराधिपाय। नित्याय सत्याय च नित्यबुद्धि नित्यं निरीहाय नमोस्तु नित्यम्।” इस मन्त्र के बारे में ऐस कहा जाता है की इस मन्त्र के जाप से कभी भी पैसों को समस्या नहीं आती और बुद्धि में वृद्धि होती है।
Previous Post Next Post

.