आई हुई मौत भी इस उपाय से टल जाएगी, एक बार आजमाकर तो देखें

आई हुई मौत भी इस उपाय से टल जाएगी
आजकल लोगों को इतनी सुख सुविधा मिल गई है, कि वह इस सुविधा के साथ जिंदगी भर जीने के लिए तैयार है। ऐसे में वह चाहते हैं कि उन पर किसी भी तरह की मुसीबत ना आए। जैसा की सुख और दुख जिंदगी में आता जाता रहता है।।इसी तरह से मौत ऐसी सच्चाई है जिसको आप कभी भी झुठला नहीं सकते। जो इस दुनिया में आया है उसे दुनिया से एक दिन जाना ही है।
इसके लिए इंसान चाहे कितनी भी उपाय कर ले। परंतु उसे इस दुनिया से एक दिन जरूर जाना पड़ेगा। एक इंसान की यही इच्छा है जो कोई कभी भी पूरी नहीं कर सकता है। ऐसा नहीं है कि सिर्फ इंसानों के साथ ही होता है, बल्कि इस धरती पर आया हुआ हर जीव, निर्जीव सबको इस दुनिया से जाना ही पड़ता है। यहां तक कि इस बंधन से भगवान को भी छुटकारा नहीं मिला है।
फिर भी टाली जा सकती है मौत:
अगर आपने शास्त्र और पुराणों में कुछ कथाएं सुनी हो, तो आपको पता ही होगा कि मृत्यु से बच पाना किसी को भी बस की बात नहीं है। चाहे वह खुद भगवान है क्यों ना हो। परंतु मृत्यु को कुछ समय के लिए टाला जा सकता है। इतना जरूर इंसान के हाथ में है या फिर यूं कह लीजिए कि अपनी आयु को इंसान थोड़ा सा बढ़ा सकता है। परंतु बात यही है कि मृत्यु से वह फिर भी नहीं बच पाएगा। एक दिन उसे मृत्यु जरूर आएगी। लेकिन कुछ सालों के लिए वह अपनी मृत्यु को आगे बढ़ा सकता है या फिर कुछ सालों के लिए अपनी आयु को लंबी कर सकता है।

करें ये उपाय:

अगर आप सबको शास्त्र और पुराणों के बारे में पता है, तो उसमें आपको काफी ऐसे व्रत मिलेंगे। जिसमें यह बताया गया है, कि सर पर आई हुई मौत को कैसे टाला जा सकता है। इन सब बातों में सबसे ज्यादा अहम व्रत वट सावित्री और करवा चौथ का व्रत माना जाता है।
यह दोनों व्रत महिलाएं अपने सुहाग को बचाने के लिए और उनकी लंबी आयु की कामना रखते हुए यह व्रत रखते हैं। क्योंकि देवी सावित्री और करवा ने यमराज से अपने पति के प्राण वापस छीन कर उनको दोबारा जिंदा कर दिया था।
कुछ महिलाएं लंबे सुहाग की कामना रखते हुए जीवित पुत्रिका और अहोई अष्टमी व्रत भी अपने पति की लंबी उम्र के लिए रखते हैं।
Previous Post Next Post

.