बचपन से था उससे प्रेम प्रसंग, प्रेमिका ने घर से भागने का दबाव बनाया ताे प्रेमी ने कर दिया ऐसा गलत काम...

फतहनगर थाना क्षेत्र के रामपुरा गांव में 4 जनवरी काे अनिता पुत्री रमेश चन्द्र कुमावत की गला दबाकर हत्या के मामले में पुलिस ने मृतका के प्रेमी गांव के ही कन्हैयालाल कुमावत काे गिरफ्तार किया है। थानाधिकारी सुनिल कुमार ने बताया कि हत्या का कारण था कि अनिता अाैर कन्हैयालाल में बचपन से प्रेम प्रसंग था। अनिता कन्हैयालाल के साथ रहना चाहती थी अाैर शादी का दबाव बना रही थी। इसी कारण कन्हैयालाल ने गला दबाकर हत्या कर दी। बता दें कि 4 जनवरी काे रामपुरा गांव के रास्ते पर महिला का शव मिलने की सूचना पर पुलिस माैके पर पहुंची थी। शव का पुलिस ने पाेस्टमार्टम कराया जिसमें गला दबाकर हत्या करना सामने अाया। 
इसके बाद पुलिस ने कन्हैयालाल काे डिटेन कर पूछताछ की ताे हत्या कबूल की। पुलिस जांच में सामने अाया कि अभियुक्त ने पुलिस काे गुमराह करने के लिए दाे चाल चली। पहली ताे यह कि अनिता घर छाेड़कर कन्हैयालाल के साथ रहने के लिए जेवर लाई थी। अभियुक्त ने जेवर काे लिया अाैर जंगल में छुपा दिया जिससे लगे कि किसी ने अनिता के जेवर लूटे अाैर हत्या की। दूसरी चाल यह चली कि अभियुक्त काे पता चला कि पुलिस अनिता के माेबाइल पर अंतिम बार फाेन करने वाले से पूछताछ करेगी। अभियुक्त ने घटना के एक दिन बाद अन्य नंबर से अनिता के माेबाइल पर फाेन किया अाैर सीम काे ताेड़कर फेंक दी। इसके बाद भी पकड़ में अा गया। 
थानाधिकारी सुनिल ने बताया कि अनिता अाैर कन्हैयालाल ने 10वीं कक्षा तक साथ में पढ़ाई की। तभी से दाेनाें के बीच प्रेम था। अनिता की 10 माह पहले फतहनगर के वासनी गांव में शादी हुई लेकिन अनिता कन्हैयालाल के साथ ही रहना चाहती थी। अनिता लगातार कन्हैयालाल काे विवाह करने के लिए कह रही थी। दोनों एक ही गांव के होने से कन्हैयालाल तैयार नहीं हुअा। इसके बाद 1 जनवरी काे अनिता ससुराल वासनी से पीहर रामपुरा अाई। फिर 3 जनवरी की रात काे अनिता कन्हैयालाल से मिलने के लिए बाड़े में पहुंची। शादी काे लेकर दाेनाें में विवाद हुअा अाैर अाराेपी कन्हैयालाल ने अनिता का गला दबा कर हत्या कर दी। फिर शव को रास्ते में डालकर घर चला गया।
Previous Post Next Post

.