पटरी में फंस चुकी साइकिल को निकालने में छात्रा ट्रेन से जा कटी

ओवरब्रिज के बावजूद शार्टकट अपनाना साइकिल सवार छात्रा की मौत का कारण बन गया। बुधवार सुबह रसूलाबाद रेल क्रासिंग पर ट्रैक पार करते बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा सुपर फास्ट राजधानी एक्सप्रेस से कट गई। उसकी साइकिल पटरी में फंस गई थी, इसे निकालते वक्त वह ट्रेन की चपेट में आ गई। आसपास मौजूद लोग दौड़े। क्षत विक्षत शव देखकर लोगों के होश उड़ गए। पुलिस ने शव हटाकर ट्रैक साफ किया।
थरियांव थाना क्षेत्र के रसूलाबाद गांव निवासी किसान गुलाब सिंह की बेटी रिंकी यादव (18) सरला देवी श्रीराम महाविद्यालय थरियांव में बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा थी। वह साइकिल से कालेज जाने के लिए रेलवे लाइन पार कर रही थी। उसके साथ की कुछ छात्राएं लाइन पार कर चुकी थीं। रिंकी की साइकिल अप लाइन में फंस गई। उसे निकालने की वह कोशिश कर रही थी तभी इलाहाबाद से कानपुर की ओर जा रही राजधानी ट्रेन पहुंच गई। 

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि ट्रेन का चालक लगातार हार्न बजा रहा था। राजधानी की चपेट में आने से छात्रा के टुकड़े-टुकड़े हो गए। हादसे की सूचना पर परिजन और पुलिस पहुंची। थरियांव पुलिस ने घटना की सूचना जीआरपी को दी। बेटी का क्षत विक्षत शव देखकर मां मैना देवी बदहवास हो गई। पिता भट्ठे में मुनीम हैं। भाई धर्मेंद्र ने बताया कि चार बहनों में रिंकी सबसे छोटी थी। एसओ अरविंद सरोज ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराया गया है।
Previous Post Next Post

.