ट्रक रिवर्स लेने में ड्राइवर ने क्लीनर को कुचल दिया, और फिर उसे साइड में लेटाकर भाग गया, तड़पकर निकली जान

मानवता को शर्मसार कर देने की घटना सामने आई है। ट्रक रिवर्स लेने में ड्राइवर ने हेल्पर को टक्कर मार दी। बाद में उसे सडक़ के किनारे लेटाकर ड्राइवर भाग निकला। वहीं पर पड़े-पड़े युवक ने दम तोड़ दिया। ड्राइवर अगर समय पर उसे अस्पताल पहुंचा देता तो शायद उसकी जान बच जाती।
कनाडिय़ा बायपास पर मृदंग गार्डन के सामने शनिवार सुबह मंगलेश कुमार रजक (28) निवासी रीवा का शव मिला था। पुलिस ने आधार कार्ड के आधार पर रीवा में स्थानीय थाने से संपर्क कर परिवार को जानकारी दी। रविवार सुबह परिवार इंदौर पहुंचा। एमवाय अस्पताल में मंगलेश का पोस्टमॉर्टम हुआ। बड़े भाई अजय ने बताया ट्रक में माल भरकर ड्राइवर के साथ मंगलेश आया था। ड्राइवर ने घटना की कोई जानकारी नहीं दी। थाने में जब उससे घटना के बारे में पूछा तो कहने लगा कि गलती से बायपास पर ब्रिज पर चढ़ गए थे।

इससे आगे जाते तो टोल नाके पर पैसा देने पड़ता। तब उसने मंगलेश को नीचे उतर कर साइड बताने को कहा ताकि बायपास की बजाए शहर के अंदर से होते हुए मांगलिया निकल जाए। वहां पर उन्हें माल खाली करना था। साइड दिखाते समय एक डम्पर ने उसे टक्कर मार दी। गंभीर रूप से घायल होने पर सडक़ से उठाकर किनारे पर लेटाकर वह चला गया। बाद में नींद आ रही थी तो सो गया और किसी को जानकारी नहीं दी। ड्राइवर अगर मानवता रखता तो मंगलेश की जान बच जाती। शव को पोस्टमॉर्टम के बाद रीवा लेकर जाएंगे।

मामले की जांच कर रहे एएसआई विष्णु चौहान ने बताया ड्राइवर विकास मिश्रा निवासी रीवा को फोन किया तो वह मांगलिया में था। उसे थाने बुलाया तो वह डंपर से टक्कर की बात करने लगा। मौके पर पूछताछ में पता चला था कि उसके ट्रक से ही मंगलेश को टक्कर लगी थी। पूछताछ में विकास ने कबूल किया कि ट्रक रिवर्स में लेते समय मंगलेश को टक्कर लग गई। घटना के बाद घबरा गया तो उसे सडक़ से कुछ दूर पर रखकर भाग गया। बाद में अपने भाई को घटना बताई। चौहान ने बताया कि मामले में विकास के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज किया जा रहा है।
Previous Post Next Post

.