मातम में बदल गईं शादी की खुशियां, नहर में गिर गई कार, पति और पत्नी की हुई मौत, साला लापता

तलवंडी भाई के गांव कैलाश और कबरवच्छा के पास एक कार अनियंत्रित होकर राजस्थान फीडर नहर में गिर गई। हादसे में कार में सवार दंपती की मौत हो गई। एक व्यक्ति नहर में बह गया। गोताखोर तीसरे व्यक्ति की तलाश में जुटे हैं। सूचना पर थाना घल्लखुर्द पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। दोनों शवों को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। यह घटना बुधवार देर शाम घटी है। पुलिस के मुताबिक गांव मोरांवाली (फरीदकोट) निवासी मनदीप सिंह किसी शादी समारोह में गांव शकूर शामिल होने आया था। बुधवार देर शाम गांव शकूर से लौटते समय अपनी पत्नी किरणदीप कौर और साले जतिंदर सिंह निवासी शकूर को कार में बैठाकर फरीदकोट लौट रहा था। 
जैसे ही गांव कबरवच्छा और गांव कैलाश के बीच राजस्थान फीडर नहर के नजदीक पहुंचा कि कार अचानक अनियंत्रित होकर नहर में गिर गई। कार को नहर में गिरते हुए गांव कैलाश के खेतों में काम कर रहे किसानों ने देख लिया। किसानों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। गांव से लोग एकत्र होकर घटनास्थल पहुंच गए और पुलिस को सूचित किया। क्रेन मंगवाकर नहर के अंदर से कार निकालने का प्रयास किया। पानी का बहाव तेज होने के कारण देर रात कार को नहर से बाहर निकाला गया। कार में मनदीप सिंह और उसकी पत्नी किरणदीप कौर का शव था। कार की खिड़की खुली होने के कारण साला जतिंदर सिंह पानी के बहाव में बह गया। 

गुरुवार को भी नहर से जतिंदर का सुराग लगाने के लिए गोताखोर लगे रहे। अब तक जतिंदर का कोई सुराग नहीं लगा है। उधर, थाना घल्लखुर्द के इंस्पेक्टर कृपाल सिंह के मुताबिक मनदीप सिंह व किरणदीप कौर के शव नहर से निकाल लिए गए हैं। नहर में गोताखोर जतिंदर की तलाश कर रहे हैं। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल पहुंचा दिया गया है। दो बाइकों की भिड़ंत में एक की मौत, मां-बेटा जख्मी। गुरुहरसहाय क्षेत्र से सटे गांव मादी स्थित सत्संग घर के पास आमने-सामने दो बाइकों की भिड़ंत हो गई। हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई। मां-बेटा गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों घायलों को स्थानीय अस्पताल में दाखिल करवाया गया। सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक बुधवार देर रात दर्शन लाल पुत्र महल सिंह निवासी गांव गजनी वाला बाइक से कहीं जा रहे थे। गांव नोह ग्राम शेर सिंह (जांबा) निवासी सोनू अपनी मां के साथ बाइक पर सत्संग घर के पास से गुजर रहा था। दोनों बाइकों की गांव मादी के पास आमने-सामने टक्कर हो गई। हादसे में दर्शन लाल की मौके पर ही मौत हो गई। मां-बेटे गंभीर रूप से जख्मी हो गए। उन्हें आसपास के लोगों ने अस्पताल में दाखिल करवाया। डॉक्टरों ने दोनों की नाजुक हालत देख फरीदकोट स्थित गुरु गोबिंद सिंह मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया है। उधर, थाना लक्खोके बहराम पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच दर्शन के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल पहुंचाया। पुलिस ने दर्शन के परिजनों के बयान दर्जकर कार्रवाई शुरू कर दी है।
Previous Post Next Post

.