लूट की रकम से नेपाल के डांस बार में ठुमके लगा रहे थे लुटेरे, और फिर जो हुआ जानिए...

26 नवंबर को दीघा थाना क्षेत्र के कुर्जी पुल के पास मछली व्यापारी जितेंद्र सहनी से हुई तीन लाख लूट की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है. खास बात तो यह है लूटकांड के बाद एक ओर जहां पटना पुलिस की टीम हलकान थी, तो दूसरी ओर अपराधी नेपाल के डांस-बार में ठुमके लगा रहे थे. लूट की रकम से काफी दिनों तक अपराधियों ने ऐयाशी की. छपरा जिले के सोनपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला लुटेरा दीपक कुमार ने खुलासा किया कि लूट के बाद वे सभी पंजाब घूमने चले गये, वहां करीब 80 हजार रुपये खर्च किये. इसके बाद उन्होंने नेपाल घूमने की योजना बनायी. 
वहां के डांस बार में डेढ़ लाख रुपये खर्च किये, वहां से आने के बाद अपराधियों को लगा कि अब पुलिस उन तक नहीं पहुंच पायेगी. लेकिन शहर में आते ही सभी छह आरोपित पकड़े गये. सिटी एसपी विनय तिवारी ने बताया कि पुलिस ने लुटेरों के पास से एक पिस्टल, 3 जिंदा कारतूस, लूट की दो मोटरसाइकिल व चार मोबाइल फोन बरामद किया है. पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे व जितेंद्र सहनी की लूटी हुई स्कूटी गाड़ी के नंबर के आधार पर पांचों लुटेरों को गिरफ्तार किया है. सिटी एसपी ने बताया कि लुटेरों को इस बात की जानकारी थी कि मछली व्यापारी पैसा कब कैसे और कहां लेकर जाते हैं. इसके बाद रेकी कर इस पूरी वारदात को अंजाम दिया गया.

सभी आरोपितों को दीघा थाना क्षेत्र से ही गिरफ्तार किया गया है. लूट के रुपये खर्च होने की बात आरोपितों ने स्वीकारी है. सभी आरोपित लूट, हत्या व डकैती के मामले में पहले भी जेल जा चुके हैं. पटना एसएसपी उपेंद्र शर्मा बताया कि मछली व्यापारी जितेंद्र सहनी से हुई करीब तीन लाख रुपये लूट मामले में सभी छह आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इनको पता था कि मछली व्यापारी कब और कहां रुपये लेकर जा रहे थे. पिस्टल के दम पर इन छह लोगों ने मिल कर रुपये लूटने की घटना को अंजाम दिया है. हालांकि लूट के सभी रुपये इन्होंने खर्च कर दिये हैं.
Previous Post Next Post

.