नवरात्रि के दौरान घर के मुख्य दरवाजे पर टांग दें ये चीज, फिर देखें चमत्‍कार

नवरात्रि की शुरुआत हुए पांचवा दिन है, हिन्दू धर्म में नवरात्र का पर्व काफी धूम धाम से मनाया जाता है साथ ही पूरे नौ डीनो तक माँ के अलग अलग रूपों की पुजा होती है और नवमी को कन्या पूजन करने मां के भक्त अपना व्रत तोड़ते हैं। दसवें दिन यानी की दशमी को दशहरा का पर्व मनाया जाता है जिसे भगवान श्री राम की लंका विजय के रूप मे मनाया जाता है। जैसे आपको बताना चाहेंगे की नवरात्र के शुरू होने के दिन से ही अपने घर के प्रवेश मार्ग पर एक स्वास्तिक का निशान बना देना चाहिए।
साथ ही आपको बता दे की यदि आपकी भक्ति और आराधना से मां प्रसन्न हो जाती है तो बता दे की निश्चित रूप से वो अपने भक्तों की मनोकामनाओं को पूरा करती हैं। तो आइये जानते है कौन से है वो उपाय जिनको करने से घर के सभी वस्तु दोषों से छुटकारा मिल सकता है। मान्यता है की नवरात्र में नौ दिनों के दौरान यदि घर से नकारात्मकता दूर करनी हो तो मुख्य दरवाजे पर आम या आशोक के पेड़ के पत्ते की माला बना कर मुख्य दरवाजे पर लगा दें।
माना जाता है की ऐसा करने से वास्तुदोष खत्म होता है, साथ ही यदि संभव हो तो दरवाजे पर ही गणेश जी का चित्र भी लगाना चाहिए जिससे घर में आने वाली तमाम तरह की नकारात्मक चीजें दूर हो जाएंगी। बताना चाहेंगे की नवरात्रि में मां भक्तों के घरों में विराजमान होती हैं और माना जाता है कि यदि इन नौ दिनों में इस तरह के उपाय किए जाएं तो इससे घर का वास्तुदोष दूर होता है।

बताना चाहेंगे की आपने अक्सर गौर किया होगा की लोग अपने घरों में  प्रवेश द्वार पर लक्ष्मीजी के पैर के निशान बनाते है या उस तरह की कोई वस्तु चिपका देते है। बता दे की लोगों में ऐसी मान्यता है की ऐसा करने से घर में सुख और शांति बनी रहती है साथ ही समृद्धि भी आती है। खास तौर पर नवरात्रि में इस तरह का उपाय यानी की लक्ष्मीजी के निशान जरूर बनाने चाहिए।

Previous Post Next Post

.