बुधवार के दिन ये काम करने से नाराज हो जाते हैं गणेश जी

जब भी किसी नए कार्य को शुरू किया जाता हैं तो भगवान गणेश की पूजा की जाती हैं. वैसे तो भगवान गणेश अपने शांत और शालीन स्वभाव के लिए जाने जाते हैं. यदि गणेश के बचपन की बात करे तो वो उस दौरान काफी नटखट हुआ करते थे. लेकिन बहुत कम लोग यह जानते हैं कि वक़्त आने पर गणेश भगवान बेहद क्रोधित भी हो सकते हैं.
ऐसा कहा जाता हैं कि गणेश जी का क्रोधित रूप उनके पिता शिव जी इतना ही खतरनाक होता हैं. यही कारण हैं कि कोई भी सख्स उन्हें नाराज नहीं करना चाहेगा. आज हम आपको कुछ ऐसी बाते बताएंगे जिन्हें बुधवार के दिन करना गणेश जी को बिलकुल भी रास नहीं आता हैं.

भूलकर भी बुधवार को ना करे ये काम, वरना क्रोधित हो जाएंगे श्रीगणेश

1. माता पिता का अपमान: वैसे तो माता पिता का अपमान या उनसे ऊँची आवाज में बात करना हमेशा ही गलत होता हैं. लेकिन जो व्यक्ति बुधवार के दिन माता पिता का दिल दुखा देता हैं श्री गणेश उसे कभी क्षमा नहीं करते हैं. आप तो जानते ही हैं कि गणेश अपने पिता शिव और माँ पार्वती से बहुत प्रेम करते हैं. एक बार जब दुनियां के चक्कर लगाने की रेस हो रही थी तो उन्होंने अपने माता पिता के ही चक्कर लगा दिए थे क्योंकि वो उन्हें ही अपनी दुनियां मानते हैं.
2. चूहे को मारना: बुधवार के दिन भूलकर भी कभी किसी चूहे को ना मारे. यदि चूहा घर में आ भी जाए तो उसे पिंजरे में जिन्दा कैद कर ले. लेकिन बुधवार के दिन चूहे को घर के बाहर ना भेजे. चूहा गणेश जी का वहां हैं और उन्हें वो बहुत अधिक प्रेम भी करते हैं.
3. नॉन-वेज खाना: जो व्यक्ति बुधवार के दिन नॉन-वेज खा कर गणेश जी का पूजन करता हैं या घर में नॉन-वेज बनाता हैं श्री गणेश उस से रुष्ट हो जाते हैं. गणेश जी को जीव जंतु की हत्या पसंद नहीं हैं. इसलिए इस दिन कोशिश करे कि घर में नॉन वेज ना बने.
4. बच्चो का दिल दुखाना: गणेश जी को बच्चे बहुत पसंद हैं. उनकी बाते और शरारते देख उन्हें ख़ुशी होती हैं. इसलिए बुधवार के दिन कभी भी किसी बच्चे का दिल मत दुखाना. फिर ये बच्चा आपके घर का हो या बाहर का.
Previous Post Next Post

.