ईसाई मिशनरी और वामपंथी गतिविधियां हैं पालघर जैसी घटनाओं की जननी: विहिप


विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के केन्द्रीय महामंत्री मिलिन्द परांडे ने पालघर (महाराष्ट्र) के बाद अब पंजाब में एक संत दंडी स्वामी पुष्पेन्द्र महाराज पर हुए जानलेवा हमले पर क्षोभ व्यक्त किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि ईसाई मिशनरियां और वामपंथी गतिविधियां ही देश में पालघर जैसी घटनाओं की जननी हैं। पालघर की घटना के बाद अब पंजाब सरकार द्वारा भी हमलावरों को अभी तक गिरफ्तार न किया जाना बेहद चिंताजनक है। 

परांडे ने शनिवार को जारी विज्ञप्ति में कहा कि संपूर्ण प्राणी मात्र में दया भाव रखने वाले संतों पर बढ़ रहे जानलेवा हमले हिंदू समाज के लिए चिंता का विषय है। ध्यान में आया है कि देश के जिन क्षेत्रों में ईसाई मिशनरियों की गतिविधियां तीव्र हैं और उन्हें वामपंथियों का प्रचार एवं सहयोग प्राप्त है, वहां संतों व हिन्दू मानबिंदुओं को अधिक निशाना बनाया जा रहा है।  

विहिप के महामंत्री ने कहा कि पंजाब के होशियारपुर में हुए जानलेवा हमले की हम घोर निंदा करते हैं और मांग करते हैं कि राज्य सरकार दोषियों को अबिलम्ब गिरफ्तार कर कठोरतम दंड सुनिश्चित करे। 
उल्लेखनीय है कि परांडे ने महाराष्ट्र के पालघर में संतों की हुई हत्या को हिंदू विरोधी सुनियोजित साजिश का हिस्सा बताया था। 

Previous Post Next Post

.