एएसपी ने दरवाजा खोला, तो नशे में मिले दारोगा जी, गिरफ्तार हुए तो बोले कुछ ऐसा...

बिहार के मोतिहारी में मुफस्सिल थाने के दारोगा व विधि व्यवस्था प्रभारी मुन्ना कुमार सिंह शराब के नशे में पकड़े गये. उनकी गिरफ्तारी थाना कैम्पस स्थित सरकारी क्वार्टर से हुई है. वह ड्यूटी से वापस लौट अपने कमरे में शराब पी रहे थे. इस दौरान बगल के कमरे में रहने वाले सिपाही शत्रुध्न कुमार ने दारोगा मुन्ना कुमार सिंह के कमरे को बाहर से लॉक कर दिया. उसके बाद आइजी व डीआइजी को फोन लगा दारोगा की करतूत बयां कर दी.
वरीय अधिकारियों की सूचना पर पहुंचे एएसपी सह सदर डीएसपी के समक्ष कमरा खोला गया, तो दारोगा नशे में बेड पर बदहवाश पड़े हुए थे. उनके कमरे से एक शराब की बोतल भी बरामद हुई. मेडिकल जांच के लिए उन्हें सदर अस्पताल ले जाया गया. शराब पीने की पुष्टि के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. घटना को लेकर मुफस्सिल के प्रभारी थानाध्यक्ष कंचन भास्कर के आवेदन पर दारोगा मुन्ना कुमार सिंह के विरुद्ध नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी. उसके बाद उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

बताया जाता है कि दारोगा ड्यूटी से वापस लौटने के बाद आराम करने अपने कमरे में गये. उनके कमरे की लाइट कटी थी. उन्होंने सिपाही शत्रुध्न से बिजली कटने के संबंध में पूछताछ की, तो दोनों के बीच झगड़ा-झंझट हुआ. मुन्ना अपने कमरे में चले गये. इस दौरान सिपाही ने उनके कमरे को बाहर से लॉक कर दिया. उसके बाद आइजी, डीआइजी को फोन लगा बताया कि दारोगा साहब ने शराब के नशे में उसके साथ झगड़ा किया है. वरीय अधिकारियों का फोन आने पर विभाग में हड़कंप मचा गया.
Previous Post Next Post

.