कर्ज लेते या देते वक़्त रखें दिन का विशेष ध्यान, खुल सकती है आपकी किस्मत

कहा जाता है है की जब मुसीबत आती है तो चरो तरफ से आती है, वो ये नहीं देखती की आप गरीब है या अमीर। सबसे ज्यादा समस्या तो तब होती है जब इंसान के पास पैसा नहीं होता है और उसकी जरूरते बढ़ती ही जाती है, उस अवस्था में अपनी उन जरूरतों को पूरा करने के लिए वह उधार लेना शुरू कर देता है। वैसे देखा जाए तो उधर लेना बहुत ही आम बात हैं लेकिन कर्ज को जितना हो सके उतना जल्दी खत्म कर देना चाहिए क्योंकि यह एक ऐसी चीज है जो निरंतर बढ़ती ही रहती है।
बताना चाहेंगे की यदि आप भी किसी से कर्ज लेने या देने वाले हैं तो अब से सावधान हो जाएं क्योंकि हमेशा कर्ज लेने या फिर देने का पछतावा बाद में होता है। आज हम आपको कर्ज लेने और देने दोनों से जुड़ी कुछ विशेष बातों के बारे में बताने जा रहे है जिस पर अगर आपने ध्यान दे दिये तो यकीनन ही आपको कभी भी कर्ज लेते या फिर देते वक़्त कभी कोई नुकसान नहीं होगा।

सबसे पहले आपको बता दे की साेमवार के दिन उधार लेने या देने का शुभ वार माना गया है, क्योंकि सोमवार का दिन अधिष्ठात्री देवी मां पार्वती है और इससे संबंधित ग्रह चंद्रमा है जो आपको कभी किसी तरह का नुकसान नहीं होने देता। बता दे की यदि आप मंगलवार को कर्ज लेते है तो आपको बता दे की यह आपके लिए बिल्कुल भी शुभ नहीं है। उधर लेने के बजाय इस दिन आपा चाहें तो अपना कोई पुराना कर्ज चुका सकते है, यह शुभ होता है।

आपको बताना चाहेंगे इस बुध ग्रह का प्रभाव काफी गहरा पड़ता है जिसे की नपुंसक माना गया है इसलिए माना जाता है की बुधवार को कर्ज लेना व देना शुभ नहीं होता है। वहीं आपको बता दे की किसी भी स्थिति में गुरुवार को कर्ज देना नहीं चाहिए लेकिन यदि इस दिन आप किसी से भी कर्ज लेते है तो वह बहुत ही लाभदायक हो सकता है, क्योंकि ऐसी मान्यता है कि इस दिन लिया गया कर्ज जल्दी चुक जाता है।
चूंकि शुक्रवार पर शुक्र का प्रभाव होता है इसलिए ये एक सौम्य संज्ञक वार है और इसी वजह से इस दिन कर्ज लेना और देना दोनों शुभ माना गया है जबकि शनिवार के दिन किए काम काफी लंबे समय तक स्थिर रहते हैं फिर चाहे वह उधर के संबंध में हो या फिर किसी अन्य। यही वजह है कि इस दिन कर्ज लेना व देना दोनों ही बिलकुल भी शुभ नहीं माना जाता है।
Previous Post Next Post

.