कल मंगलवार के दिन घर के दरवाजे पर सिंदूर से लिखे ये मंत्र, फिर खुद देखे हनुमान जी का चमत्कार

अगर धार्मिक शास्त्रों की बात करे, तो शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि यदि कोई विवाहित स्त्री अपनी मांग में सिंदूर लगाती है, तो इससे उसके पति की उम्र लम्बी हो जाती है. इसके इलावा इससे घर में सुख और समृद्धि आती है. वही हिन्दू देवी देवता की पूजा भी सिंदूर के बिना अधूरी ही मानी जाती है. बरहलाल सिंदूर का इस्तेमाल कई टोने टोटको के लिए भी किया जाता है. जी हां इसका इस्तेमाल अच्छे कामो में किया जाता है. वैसे भी कुछ लोग टोने टोटके का नाम सुन कर डर जाते है, लेकिन हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हम यहाँ अच्छे कार्यो की बात कर रहे है. तो चलिए अब हम आपको सिंदूर से होने वाले कुछ लाभकारी टोने टोटको के बारे में विस्तार से बताते है.
सबसे पहले उपाय के अनुसार अगर लाख कोशिशे करने के बाद भी आपकी परेशानिया कम होने का नाम नहीं ले रही तो, चमेली के तेल में सिंदूर मिला कर हनुमान जी को चढ़ा दे. गौरतलब है कि हनुमान जी को पांच मंगलवार और पांच शनिवार तक इस तरह तेल मिला सिंदूर अर्पित करते रहे यानि चढ़ाते रहे. बता दे कि इससे आपकी सभी परेशानियां खुद ही दूर हो जाएँगी. इसके इलावा अगर कोई दोस्त और आपका संबंधी आपको सम्मान नहीं दे रहा तो एक पान के पत्ते पर फिटकरी और सिंदूर बाँध कर बुधवार की सुबह या शाम को पीपल के पेड़ के नीचे किसी बड़े पत्थर से दबा दे.
इस दौरान इस बात का ध्यान रखे कि पत्ते को बड़े पत्थर से दबाने के बाद सीधा घर आ जाए और पीछे मुड़ कर न देखे. ये उपाय आपको तीन बुधवार तक करना है. इससे आपके सम्मान में यक़ीनन वृद्धि होगी. वही वास्तु के अनुसार घर के मुख्य दरवाजे पर तेल में सिंदूर मिला कर लगाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती. इसके साथ ही एक मान्यता ये भी है कि अगर घर के मुख्य दरवाजे पर मंगलवार के दिन यह मंत्र लिखा जाये, तो सभी मुसीबते टल जाती है. जी हां ये मंत्र कुछ इस प्रकार है. हं हनुमते रुद्रात्मकाय हूँ फट.
इस मंत्र को मंगलवार के दिन दरवाजे पर तेल मिले सिंदूर से लिखने पर घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है. इसके इलावा इस मंत्र से घर में माँ लक्ष्मी के प्रवेश के द्वार भी खुल जाते है. बता दे कि आपको यह मंत्र घर के अंदर दरवाजे की तरफ लिखना है. ये उपाय आपको मंगलवार के दिन शाम के समय ही करना है. वही अगर आपको कोई ग्रह दोष सता रहा है और आपकी कुंडली में सूर्य और मंगल आपके लिए मार्ग ग्रह है, यानि आपकी कुंडली में उनकी महादशा चल रही है तो, ऐसी कुंडली वाले व्यक्ति सिंदूर लेकर उसे जल में प्रवाहित कर दे. इससे ग्रह का बुरा प्रभाव खत्म हो जाएगा या कम हो जाएगा. इसके साथ ही सूर्य और मंगल से आपको शुभ फल की प्राप्ति होने लगेगी.

बरहलाल कल मंगलवार है और हम उम्मीद करते है, कि इन उपायों को आजमाने के बाद हनुमान जी आप पर अपनी कृपा जरूर करेंगे.

Previous Post Next Post

.