प्रेमिका के जिंदगी में आ गया था कोई और प्रेमी, इसीलिए पुराने प्रेमी ने उसको बुलाकर किया ये काम

बड़वारा के बसाड़ी फारेस्ट चौकी के पीछे 25 दिसंबर को मिले युवती के शव का एसपी ने खुलासा कर दिया है। युवती की हत्या उसके प्रेमी ने गर्दन में ब्लेड मार कर की थी और शव चौकी के पीछे फेंक दिया था। पुलिस ने युवती की हत्या करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी ललित शाक्यवार ने बताया कि जंगल में शव मिलने के बाद आसपास के लोगों से पूछताछ की गई। म़ृतिका की पहचान सुड्डी निवासी राधाबाई के रूप में हुई। 
अंधी हत्या का खुलासा करने के लिए एएसपी संदीप मिश्रा, एफएसएल अधिकारी डॉक्टर अवनीश सिसोदिया के मार्गदर्शन में टीम गठित की गई। इसमें बड़वारा थाना प्रभारी हरवचन सिंह, रोहित डोंगरे, विनोदकांत, धर्मेंद्र यादव, रामनरेश पाठक सहित अन्य लोगों को शामिल किया गया। एसपी ने बताया कि युवती की हत्या उसके प्रेमी आनंद ने इसलिए कि थी कि उसको शक था कि युवती किसी और से भी बात करती है।
माधवनगर की बिस्किट कंपनी में काम कर रहा था आरोपी। एसपी ने बताया कि टीम गठित होने के बाद आरोपी की तलाश शुरू की गई। टॉवर लोकेशन के आधार पर आरोपी को माधवनगर की एक बिस्किट फैक्ट्री से गिरफ्तार किया गया। थाना लाकर पूछताछ की गई। आरोपी ने बताया कि सुड्डी निवासी मृतिका उसकी बड़ी मौसी की लड़की थी। कक्षा 9वीं से 12वीं की पढ़ाई के लिए वह विलायतकला आई थी। आरोपी के गांव पथवारी में रहकर पढ़ाई की। इस दौरान दोनों को एक दूसरे से प्रेम हो गया। पढ़ाई के बाद युवती अपने घर चली गई और आरोपी से बात करना भी बंद कर दिया। 
दो-तीन महीने से बातचीत नहीं होने पर युवक ने युवती से मिलने की योजना बनाई। 9 दिसंबर 2019 को युवती जीजा के घर विलायतकला आई। जिसकी जानकारी युवक को लगी। उसने नंबर का जुगाड़ किया और 14 दिसंबर को बात की। जिस पर मृतिका ने बताया था कि वह बस में सवार होकर घर जा रही है। आरोपी भी पथवारी से बस में बैठ गया और बसाड़ी में बातचीत के बहाने युवती को उतार लिया। दोनों जंगल गए। इस दौरान प्रेमी ने ब्लेड निकाली और युवती के गर्दन की नश काट दी। जिससे उसकी मौत हो गई। हत्या करने के बाद युवती के मोबाइल और पर्स को साथ ले गया। अंधी हत्या की गुत्थी सुलझाने वाली टीम को एसपी ने पुरस्कृत करने को कहा है। 
Previous Post Next Post

.