कोरोना पूरी तरह समाप्त होने के बाद ही हों क्रिकेट मुकाबले : युवराज


पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह ने कहा है कि कोरोना महामारी समाप्त होने के बाद ही क्रिकेट शुरु होना चाहिये। युवराज के अनुसार खिलाड़ियों की सेहत और सभी की सुरक्षा खेल प्रशासकों की सबसे पहली वरीयता होनी चाहिये। लॉकडाउन के कारण अभी सभी खेल मुकाबले सभी खेलों की तरह घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट भी कोरोना वायरस महामारी के कारण बंद हैं। ऐसे में बढ़ते आर्थिक दबाव को देखते हुए कई देशों के क्रिकेट बोर्ड लॉकडाउन खुलने पर दर्शकों के बिना ही खाली स्टेडियमों में मैच आयोजित करने पर विचार कर रहे हैं। इसपर युवराज ने कहा, ‘मेरा मानना है कि कि पहले अपने देश और दुनिया को कोरोना वायरस से बचाना है।’ 


उन्होंने कहा, ‘इसे पूरी तरह से समाप्त करना होगा क्योंकि अगर यह बढ़ता रहा तो खिलाड़ी मैदान पर जाने से, ड्रेसिंग रूम या चेंजिंग रूम में जाने से भी डरेंगे।’साथ ही कहा कि खिलाड़ियों पर वैसे ही मैदान पर काफी दबाव रहता है और वायरस के बारे में सोचते रहने से उनके खेल पर भी प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ी किसी भी देश या क्लब के लिए खेले, उस पर काफी दबाव रहता है। ऐसे में कोरोना वायरस का डर लेकर वह खेलना नहीं चाहेगा।’ युवराज ने कहा, ‘जब आप दस्ताने पहनकर उतरेंगे, पसीना बह रहा है और आप बल्लेबाजी कर रहे हैं। आपका फल खाने का मन है लेकिन वह किसी और के हाथ में है तो आप सोचेंगे कि नहीं, मुझे नहीं खाना चाहिए।’ वहीं खेलते समय इस प्रकार की बातों के मन में आने से ध्यान भटक जाता है।

Previous Post Next Post

.