सास, बहू और बेटा बनकर ज्वेलरी शॉप पहुंचे और 8 मिनट में चुरा लिया सोने की चार चूडिय़ां और फिर...

ग्वालियर शहर के सराफा बाजार में स्थित स्वर्ण सरोवर ज्वैलरी शोरूम पर गहने खरीदने ग्राहक बनकर आई दो महिला चोर व उनकी गैंगे 8 मिनट में करीब दो लाख रुपए की चार चूडिय़ां चोरी कर ले गई। तीन सदस्यीय गिरोह में दो महिलाएं भी थीं। तीनों सास, बहू और बेटा बनकर आए थे। वारदात रविवार दोपहर को हुई। चोरी का पता शोरूम संचालक को स्टॉक का मिलान करने पर चला। सीसीटीवी चैक किए जिसमें चोरी दिख गई। पुलिस ने सोमवार को एफआइआर दर्ज कर ली। इससे पहले भी सराफा बाजार में इसी तरह ग्राहक बनकर ज्वैलर्स की दुकान पर चोरी की कई वारदातें हो चुकी हैं।
सराफा बाजार निवासी वरदान मित्तल ने बताया कि उनका स्वर्ण सरोवर ज्वैलरी शोरूम है। रविवार दोपहर 1 बजकर 8 मिनट पर तीन लोग ग्राहक बनकर आए, इनमें दो महिलाएं थीं। उन्होंने सोने की चूडिय़ां दिखाने कहा। शोरूम की सेल्स गल्र्स ने उन्हें कई डिजाइन की चूडिय़ां दिखाईं। तीनों इस तरह बात कर रहे थे जैसे सास, बहू और बेटा हों। चोर करीब 8 मिनट शोरूम में रहे। इस दौरान चूडिय़ों के 5 सेट देखे और सोने की 42.5 ग्राम सोने की पांच चूडिय़ां चोरी कर लीं। उनकी कीमत करीब 1 लाख 90 हजार रुपए है। जेवर चोरी करने के बाद तीनों गहने पसंद नहीं आने का बहाना कर चले गए। 

उनकी हरकत तुरंत पकड़ में नहीं आई। काउंटर पर जो गहने रखे थे सेल्स गल्र्स ने उठाकर उन्हें वापस केस में रख दिया। शाम को जब स्टॉक का मिलान किया तो चार चूडिय़ां कम निकलीं। दोबारा गिनती करने पर भी मिलान नहीं हुआ तो शोरूम में खलबली मच गई। मित्तल के मुताबिक ग्राहक को जो भी गहने दिखाए जाते हैं, उनकी पॉलीथिन काउंटर पर रखी जाती है। जो पॉलीथिन खाली रहती है, उससे पता चलता है कि उनके गहने ग्राहक के पास हैं। ग्राहक बनकर आए चोरों में एक महिला तो चूडिय़ां पहनकर देखने का नाटक करती रही, उसके पास बैठी बुजुर्ग महिला ने पहले पॉलीथिन, फिर चार चूडिय़ां चुराईं। खाली पॉलीथिन काउंटर पर नहीं होने से सेल्स गर्ल गफलत में पड़ गई।
Previous Post Next Post

.