मेहंदीपुर बालाजी के महंतों को बम से उड़ाने की धमकी देकर 70 लाख की फिरौती मांगी और फिर...

मेहंदीपुर बालाजी मंदिर के महंत किशोरपुरी और नरेशपुरी को 70 लाख की फिरौती नहीं देने पर बम से उड़ाने की धमकी देने के आरोपी को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार किया है। मेहंदीपुर बालाजी थाना प्रभारी सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि स्थानीय निवासी हनुमानपुरी ने गत 24 जनवरी को अज्ञात व्यक्ति द्वारा सोशल मीडिया पर 26 जनवरी को दोनों महंतों को ब्लास्ट कर उड़ाने की धमकी दी थी। महंत की फोटो भी भेजी गई और दो बार ऑडियो कॉल भी किया। रात को ही 10.14 बजे फिर वाट्सएेप पर लिखकर भेजा कि इनका मरना तय है, बचाना हो तो 70 लाख रुपए की व्यवस्था कर लेना। 
धमकी भरे मैसेज के साथ वार्तालाप को लीक नहीं करने की चेतावनी भी दी। आरोपी ने यह भी बताया कि उसके आदमी बालाजी में चारों ओर फैले हैं। पुलिस ने बताया कि गणतंत्र दिवस पर्व को मद्देनजर रखते हुए तथा मैसेज में लिखित धमकी भरी बातों को ध्यान में रखते हुए तुरंत पुलिस दल गठित कर अज्ञात की तलाश शुरू कर दी गई। इस पर पुलिस ने आरोपी को नामजद कर मुकेश गोस्वामी उर्फ भरोसी निवासी कांचरोल्या ढाणी उदयपुरा को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से फर्जी सिम व मोबाईल कर लिए।

पुलिस ने बताया कि आरोपी भरोसी गोस्वामी अपने पिताजी की इकलौती संतान है। जो मेंहदीपुर बालाजी में मंदिर के सामने ही प्रसादी की दूकान करता था। पुलिस ने आरोपित के बारे में जानकारी जुटाई तो उसके ऊपर लाखों का कर्जा होने की जानकारी मिली साथ ही वह गलत और महंगे शौक में लिप्त पाया गया। आरोपी को नामजद करने के उपरांत गठित टीम द्वारा आगरा, भरतपुर, नोएडा, जयपुर, जोधपुर, अजमेर में तलाशी के प्रयास किए गए। लेकिन आरोपी शातिर और चालाक था। जिसने अपने मोबाईल सिम वाट्सअप नंबर को इंटरनेट कॉलिंग से कनेक्ट कर रखा था। और सिम को बंद कर रखा था। ऐसी स्थिति में उसकी लोकेशन भी प्राप्त नहीं हो पा रही थी।
Previous Post Next Post

.