जाने क्यों इन 5 कामों को ज्यादा समय तक करने से औरत और मर्द का होता है नुकसान

अगर आप सब अच्छे जीवन को व्यतीत करना चाहते हैं, तो विष्णुपुराण में अच्छा जीवन कैसे जीना चाहिए। उसके बारे में बहुत सारी बातें लिखी गई हैं, अगर आप उन बातों का पालन करेंगे तो आपको जिंदगी में बहुत फायदे हो सकते हैं। जो लोग उन बातों का ध्यान नहीं रखते हैं। उन्हें सेहत संबंधी बहुत सारी परेशानियों को झेलना पड़ता है। आज हम आपको विष्णुपुराण में बताई गई पांच बातों के बारे में बताएंगे। जिसमें ऐसे काम के बारे में जिक्र किया गया है, जिस काम को जल्दी ही खत्म कर लेना चाहिए। इन कामों को करने में ज्यादा समय नहीं लगाना चाहिए।
पहला काम- स्नान (नहाना) करना

सबसे पहले हमें नहाने का काम जल्दी कर लेना चाहिए। कहने का भाव है कि हमें नहाते समय ज्यादा समय नहीं लेना चाहिए। अगर आप नहाते समय ज्यादा समय लेते हैं, तो आपको कई बीमारियां हो सकती हैं। जैसे कि सर्दी, जुखाम, बुखार आदि। इसलिए जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी नहाए और सबसे बेहतर होगा कि अगर आप सुबह के वक्त नहाते हैं। क्योंकि सुबह नहाना श्रेष्ठ माना गया है।

दूसरा काम है सोना
दूसरा सबसे जल्दी किया जाने वाला कार्य है सोना। अगर आप चाहते हैं कि आपको सेहत संबंधी परेशानियां ना हो और आपकी उम्र लंबी हो तो, आपको रोजाना पर्याप्त नींद लेनी चाहिए। अगर आप सोते समय पूरी नींद नहीं लेते हैं। तो आपको इससे बहूत बीमारी बढ़ सकती है और इसे मोटापा भी बढ़ता है। कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनको जल्दी नींद नहीं आती है, वह लेट तो जाते हैं परंतु करवटें बदलते रहते ह।ैं ऐसे लोगों को सेहत संबंधी बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अगर आपको नींद नहीं आ रही है तो आप योगा कर सकते हैं या शारीरिक परीक्षण कर सकते हैं। इससे आपको नींद बहुत जल्दी और सुकून की आएगी।
तीसरा काम है जागना

यह बात हम सब जानते हैं कि जितना जल्दी हो सके सुबह उठ जाना चाहिए। क्योंकि सुबह का वातावरण इतना साफ और पवित्र होता है कि उसमें ली गई सांस हमारी शारीरिक बीमारियों को दूर कर देती है। सुबह उठकर आप को टहलना चाहिए। ध्यान या योगा जरूर करना चाहिए। लाजमी सी बात है अगर आप रात को जल्दी सोएंगे तो सुबह जल्दी उठेंगे।
चौथा काम है शय्यासेवन (काम क्रीड़ा)

स्त्री और पुरुष दोनों को इस बात का खास ख्याल रखना चाहिए, कि उन्हें कामक्रिडा में ज्यादा समय नहीं लेना चाहिए। कामक्रिडा से भाव है शय्यासेवन। इसमें उनको ज्यादा समय नहीं लगाना चाहिए। वरना इस से शरीर कमजोर हो जाता है और दोनों को ही स्वास्थ्य संबंधी बहुत सारी परेशानियां भी घेर लेती हैं।

पांचवां काम है व्यायाम करना
हर इंसान को अपनी पूरी दिनचर्या में आधा घंटा का व्यायाम तो जरूर करना चाहिए, इससे शरीर हष्ट पुष्ट रहता है और शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता भी मिलती है। बदलते मौसम के हिसाब से उसे बीमारियां भी नहीं लगती है। परंतु व्यायाम भी एक निश्चित समय पर करना चाहिए। ज्यादा व्यायाम करने से शरीर में दर्द हो जाता है और थकान हो जाती है।
Previous Post Next Post

.