बेड़ीनाग में 3 दिन से लापता शिक्षक का शव खाई में मिल गया

बेड़ीनाग के जवाहर चौक निवासी शिक्षक मनमोहन खनका की कार दुर्घटना में मौत हो गई। वह तीन दिन से लापता थे। बकरियों को चराने जंगल गए ग्रामीण के खाई में पड़ी कार और शव को देखने के बाद दुर्घटना का पता चला। मनमोहन खनका जीआईसी संगोड़ में विज्ञान शिक्षक थे। मंगलवार को बकरियां चराने गए एक ग्रामीण को बेड़नाग-पोसा पुस्तोला सड़क से नीचे कार संख्या यूके 05 बी-0223 क्षतिग्रस्त हालत में दिखाई दी। 
सड़क से लगभग 200 फीट नीचे कार के समीप ही एक शव भी पड़ा था। सूचना मिलने पर बेड़ीनाग के थानाध्यक्ष हेम पंत जवानों के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद उन्होंने दुर्घटनास्थल का निरीक्षण किया। मृतक की पहचान बेड़ीनाग के जवाहर चौक निवासी शिक्षक मनमोहन खनका के रूप में हुई। परिजनों के अनुसार मनमोहन जीआईसी संगोड़ में विज्ञान शिक्षक थे और पिछले तीन दिन से लापता थे। 

माना जा रहा है कि तीन दिन पूर्व घर लौटते समय उनकी कार खाई में गिर गई होगी। सुनसान स्थान होने के कारण किसी को भी दुर्घटना का पता नहीं चल सका। पंचनामा भरने के बाद मृतक का शव खाई से रस्सियों के सहारे निकाला गया। थाना प्रभारी हेम पंत ने बताया कि शव को मोर्चरी में रखा गया है। बेड़ीनाग में ही शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। उन्होंने बताया कि दुर्घटना के संबंध में जांच की जाएगी।
Previous Post Next Post

.