दुनिया को अलविदा कह गए 28 इंच के 'अजूबा', फर्रुखाबाद में गुजारे थे अपने 65 साल...

फर्रुखाबाद शहर ही नहीं आसपास के क्षेत्र में भी 'अजूबा' कहे जाने वाले शाकिर मंगलवार की शाम इस दुनिया से अलविदा कह गए। वह जनपद में काफी चर्चित थे और कभी अपने जीवन को बोझ नहीं माना। हमेशा आने वाले संघर्षों को सहर्ष स्वीकार करके आगे बढ़े। परिवार को भी संबल दिया और अपनी कमी को जीवन की राह में आड़े नहीं आने दिया।

सांस की बीमारी से थे पीडि़त
अपने 28 इंच के कद के कारण 'अजूबा' कहे जाने वाले कुबेरपुर निवासी शाकिर का मंगलवार शाम निधन हो गया। वह लंबे समय से सांस की बीमारी से पीडि़त थे। पिछले दिनों उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों के जवाब देने के बाद उन्हें घर लाया गया, देर शाम उन्होंने अंतिम सांस ली। इसकी जानकारी होते ही उनके घर पर लोगों का तांता लग गया। परिजनों ने बताया कि भीषण ठंड के चलते उन्हें लगातार सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। इसके चलते पिछले दिनों अस्पताल में भर्ती कराया था, लेकिन उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ।

प्रदेश में थी छोटे कद की चर्चा

ग्राम कुबेरपुर निवासी 65 वर्षीय शाकिर अपने छोटे कद के कारण जिले ही नहीं बल्कि प्रदेश भर में चर्चित थे। जब आम आदमी का कद पांच से छह फीट तक होता है तब वह सिर्फ 28 इंच लंबे थे। अपने छोटे कद से कभी वह विचलित नहीं हुए। विगत लोकसभा चुनाव में भी जब वह अपने बूथ पर वोट डालने पहुंचे थे, तो वहां सभी ने उन्हें वीआईपी तरजीह दी थी। ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों व अन्य लोगों ने उनके साथ सेल्फी भी ली थी।
Previous Post Next Post

.