शराब ठेकेदार पर हमलाकर लूटपाट के आरोपित 20 दिन के बाद किए गए गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र थाना क्षेत्र के अंतर्गत नई अनाज मंडी गेट पर शराब की बिक्री को लेकर ठेकेदारों के कारिदों के बीच हुए झगड़े के हाई प्रोफाइल मामले में सीआइए-1 ने छह आरोपितों को 20 दिन बाद गिरफ्तार किया है। हमले में ठेकेदार के तीन कारिदों पर दूसरे पक्ष ने हमला किया था व उनकी गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया था। पुलिस ने आरोपितों को अदालत में पेश किया। अदालत ने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।
दो जनवरी 2020 को करनाल के गांव जमालपुर निवासी राकेश शर्मा ने थाना शहर में शिकायत दर्ज कराई थी कि वह शराब की कंपनी में कर्मचारी है। जिसका मालिक राजेश कुमार बंसल है। एक जनवरी 2020 को वह राजेश कुमार बंसल, मनीष व सुशील कुमार फर्म की गाड़ी से रोजाना की तरह सलारपुर रोड स्थित शराब के ठेके से कैश इकट्ठा करके नई अनाज मंडी के गेट पर खाने पीने के लिए फल खरीदने के लिए रुके थे। उनकी गाड़ी के पीछे काले शीशों वाली बोलेरो गाड़ी आकर रुकी। गाड़ी से उतरे 6-7 युवकों ने डंडे व गंडासी से उन पर हमला कर दिया। वे राजेश कुमार के हाथ से 50 हजार रुपयों का थैला छीन ले गए। इस दौरान मनीष का मोबाइल छीन लिया और उनकी गाड़ी समेत एक अन्य गाड़ी को तोड़ दिया। 

पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था। राजेश कुमार बंसल के समर्थन में समाज के लोग गत दिनों एसपी आस्था मोदी से मिले थे। एसपी ने इसकी जांच सीआइए-1 को सौंपी थी। पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर अनाज मंडी गेट से एक गाड़ी में सवार छह युवकों को काबू किया। युवकों ने अपना नाम आलमपुर निवासी मलकीत सिंह, प्रदीप कुमार, मोहित, मिर्जापुर निवासी राजेंद्र, सुनहेड़ी खालसा निवासी सुरेंद्र व आकाश नगर निवासी विनोद बताया। पूछताछ के दौरान बताया कि उन्होंने अपने अन्य साथियों के साथ मिल कर मारपीट व गाड़ी को क्षतिग्रस्त किया था। गहन पूछताछ में पुलिस ने आरोपितों से वारदात में प्रयोग की गाड़ी, चार गंडासी और दो डंडे बरामद किए।
Previous Post Next Post

.