किसान के थैले से चोरी हुए थे 1 लाख रुपये, पुलिस को जेब से देने पड़ गए 20 हजार रुपये

30 अगस्त को केनरा बैंक में गांव खजूरी के किसान सुरेश कश्यप के थैले से एक लाख रुपये चोरी होने के मामले को लेकर किसानों व बैंक के बीच चला आ रहा विवाद समाप्त हो गया। बैंक की ओर से 25 हजार रुपये व पुलिस विभाग की ओर से 20 हजार रुपये की सहायता राशि सुरेश कश्यप को दी गई। शुक्रवार को शहीद उधम सिंह धर्मशाला में बैंक के मैनेजर व किसानों ने प्रभावित किसान सुरेश कश्यप को सहायता के तौर पर 45 हजार रुपये की राशि दी।
भाकियू जिला प्रधान सुभाष गुर्जर ने बताया कि 30 अगस्त की दोपहर को सुरेश कश्यप के थैले से केनरा बैंक से किसी ने एक लाख रुपये चोरी कर लिए थे। मामले को लेकर भाकियू पदाधिकारी कई बार पुलिस व बैंक अधिकारियों व कर्मचारियों से मिले। लेकिन समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ। बैंक के अधिकारियों व कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए किसान के एक लाख रुपये राशि चोरी होने की बात कही गई। जिसके लिए बैंक के अधिकारी चोरी हुई राशि की भरपाई करे। 

जब तक भरपाई नहीं होगी तब तक उनका धरना प्रदर्शन जारी रहेगा। दो बार तो किसान बैंक पर ताला लगाने के लिए भी पहुंच गए और प्रदर्शन भी किया। अब दोनों पक्षों के बीच आपसी सहमति से शुक्रवार को विवाद समाप्त हो गया। मौके पर नाथीराम दोहली, सुभाष चमरोड़ी उपप्रधान रादौर, रमेश ढिल्लों, सुभाष दहिया खजूरी, नरेश अमलोहा, गुरदयाल सिंह जुब्बल, रघुवीर सिंह जुब्बल, ओमप्रकाश शर्मा जुब्बल, अवतार सिंह काला कुंजल, राजेश चमरौड़ी जगीर सिंह छारी, मामराज बुबका किसान मौजूद थे।
Previous Post Next Post

.