थाने में किन्नरों ने उतार दिए अपने कपड़े, पुलिस को आया गुस्सा और फिर किया ये...जानिए क्या था मामला

उत्तर प्रदेश के मेरठ में लालकुर्ती फव्वारा चौक के पास बधाई के पैसे के लेन-देन को लेकर किन्नरों के दो पक्षों में खूनी संघर्ष हुआ।दोनों पक्षों ने अपने पक्ष के लोगों को बुलाया।इसके बाद आधे घंटे तक मारपीट हुई।बचाव में आए व्यापारियों को भी पीटा गया। लालकुर्ती थाने की पुलिस दोनों पक्षों को पकड़कर थाने ले आई।थाने में हंगामा कर रहे किन्नरों पर पुलिसकर्मियों ने लाठीचार्ज कर दिया।
 फव्वारा चौक, लालकुर्ती में किन्नरों के दो समूहों में बधाई मांगने को लेकर मारपीट हुई।रेलवे रोड मकबरे की रहने वाली शानू उर्फ ​​सोनिया किन्नर अपने साथियों के साथ लालकुर्ती के फव्वारा चौक पर कमल शर्मा के पोते होने की बधाई देने पहुंची।
उसी समय, लालकुर्ती में रहने वाले चंदो उर्फ ​​चांदनी और हाजी इकराम अपने सहयोगियों के साथ बधाई मांगने पहुंचे।दोनों गुटों ने इलाके को अपना बताकर मारपीट शुरू कर दी।
थाना लाल कुर्ती पुलिस मौके पर पहुंची। दोनों पक्ष को थाने ले गए।थाने में भी किन्नरों के दो पक्ष आपस में भिड़ गए। पुलिस ने रोकने की कोशिश की, दोनों पक्षों के किन्नरों ने कपड़े उतारना शुरू कर दिया।जब पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका तो वे उनके साथ भी हाथापाई करने लगे।
पुलिस स्टेशन पर गुस्सा आई पुलिस निरीक्षक रोजंत त्यागी और उनकी टीम ने किन्नरों पर लाठियां चलाईं।लाठीचार्ज के दौरान थाने में भगदड़ मच गई।
पुलिस ने दोनों समूहों के नौ युवक को गिरफ्तार कर हवालात में बंद कर दिया।उसके बाद सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया।
Previous Post Next Post

.